सांपों को लेकर देश भर में कर्इ कहानियां प्रचलित हैं, लेकिन उत्तराखंड की एक महिला की कहानी सुनकर आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे। ये पौंड़ी की रहने वाली महिला की कहानी है, जिससे सांप इस कदर नाराज हैं कि वे उसका पीछा ही नहीं छोड़ना चाह रहे हैं।

एक महीने में पांच बार काटा सांपों ने

इस महिला को एक महीने में एक-दो बार नहीं बल्कि पांच बार सांप काट चुका है। इलाज मिलने के कारण संगीता की जान तो हर बार बच गर्इ लेकिन सांप है कि पीछा छोड़ने के लिए तैयार ही नहीं है।

यह हैं सांप काटने की कहानी

बताया जा रहा है कि सांपों के संगीता के पीछे पड़ने के पीछे भी एक कहानी है। महिला के घर के बाहर एक गौशाला है। एक दिन महिला के घरवालों ने उस गौशाला में घुसे एक सांप को मार दिया। बस उसी दिन से सांपों ने महिला से बैर बांध लिया और उसके पीछे पड़ गए।

महिला के पीछे पड़े सांपों की कहानी जो भी जानता है वो दंग रह जाता है। गांववालों ने सांपों से किसी भी प्रकार के अनिष्ट को रोकने के लिए एक शिव मंदिर का भी निर्माण करवाया है। हालत ये हैं कि जब भी महिला अकेली होती है, उसके आसपास सांप आने लगते हैं और फिर मौका पाते ही उसे डस लेते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here