venkaiah-naidu

देश के सबसे बड़े राजनैतिक गठबंधन नेशनल डेमोक्रेटिक अलायंस (एनडीए) ने आगामी उपराष्ट्रपति पद पर चुनाव के लिए राज्यसभा में राजस्थान का प्रतिनिधित्व करने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता ”मुप्पावारपु वेंकैया नायडू” को उम्मीदवार बनाया है। दक्षिण भारतीय आँध्र प्रदेश राज्य के नैल्लोर ज़िले से आने वाले नायडू वर्तमान में राजस्थान का राज्यसभा में प्रतिनिधित्व करते है। नायडू ने कल ही अपने नगरीय विकास मंत्रिपद और सूचना व प्रसारण मंत्री पद से इस्तीफ़ा दे दिया था। अब इस पद का कार्यभार स्मृति ईरानी को दिया गया है तथा नगरीय विकास मंत्रालय का भार नरेंद्र सिंह तोमर को सौंपा गया है। नायडू ने आज उपराष्ट्रपति के लिए अपना नामांकन भरा। अब आगामी 5 अगस्त को उपराष्ट्रपति पद पर चुनाव होने जा रहे है। उसी दिन परिणाम आएंगे। नायडू के प्रतिद्वंदी के तौर पर विपक्ष के साझा उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी ने भी आज अपना नामांकन भरा।

राजस्थान से ख़ास लगाव रहा है नायडू का:

वेंकैया नायडू गत वर्ष मई- 2016 से संसद के उच्च सदन राज्यसभा में राजस्थान का प्रतिनिधित्व कर रहे है। मूलतः दक्षिण भारत से सम्बन्ध रखने वाले वेंकैया नायडू का राजस्थान से ख़ास लगाव रहा है। राजस्थान सरकार के कई कार्यक्रमों में नायडू ने सक्रियता दिखाई है। प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ नायडू ने कई आयोजनों में शिरकत की है। राजस्थान के शहरी विकास में नायडू ने राज्य सरकार को पूरा सहयोग दिया है। राजस्थान में किसानों के हित में आयोजित होने वाले ”ग्राम” समारोह में भी वेंकैया नायडू ने राजस्थान सरकार का पूरा साथ दिया है।

ऐसे समझिये वेंकैया नायडू को:

किसान परिवार से सम्बन्ध रखने वाले नायडू अपने छात्र जीवन से ही राजनीती की ओर बढ़ चले थे। अपने छात्र जीवन में नायडू आंध्रा विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष बने थे। छात्र राजनीति के दिनों से अपने बेहतरीन भाषा कौशल के लिए जाने जाने वाले नायडू को भारतीय राजनीति में भी शानदार वाक् क्षमता के लिए जाना जाता है।

  • वेंकैया नायडू ने 1974 के दौरान लोकनायक जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में केंद्र की इंदिरा गाँधी सरकार के विरोध में दक्षिण भारत में छात्र आंदोलन में सक्रिय भागीदारी निभाई थी।
  • 1977 – 80 में नायडू आंध्रा प्रदेश के भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष रहे थे।
  • छात्र राजनीति से आगे बढ़कर नायडू 1978 – 85 के दौरान आंध्र प्रदेश विधानसभा में दो बार सदस्य रह चुके है।
  • इसके बाद साल 1998 से केंद्रीय राजनीति में कदम रखने वाले नायडू ने तीन बार कर्नाटक का राज्यसभा में प्रतिनिधित्व किया हैं। वर्तमान में नायडू राजस्थान का राज्यसभा में प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।
  • NDA की पहली सरकार में तत्कालीन प्रधानमन्त्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में वेंकैया नायडू ग्रामीण विकास मंत्री रह चुके है।
  • नायडू जुलाई 2002 से अक्तूबर 2004 तक लगातार दो कार्यकाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रह चुके है।
  • वर्तमान भारत सरकार में नायडू ने सूचना प्रसारण और शहरी विकास मंत्रालय का कार्यभार संभाला है।

प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली नायडू के प्रस्तावक बने:

भाजपा के वरिष्ठ नेता वेंकैया नायडू ने भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में इस समय देश के सबसे बड़े गठबंधन समूह एनडीए की ओर से आज जब उपराष्ट्रपति पद के लिए नामांकन भरा तो इस अवसर पर प्रधानमन्त्री मोदी और और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली नायडू के प्रस्तावक बने। नायडू ने अपना नामांकन भाजपा के भीष्म पितामह ‘लालकृष्ण आडवाणी’, वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह साथ ही भाजपा के अन्य सहयोगी दलों की मौजूदगी में दाखिल किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here