reservation In Rajasthan

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि हम आरक्षण कभी समाप्त नहीं होने देंगे। कुछ लोग आरक्षण को लेकर भ्रम फैलाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन मैं विश्वास दिलाना चाहती हूं कि आरक्षण न तो खत्म हुआ है और न कभी होगा। हम ऐसा कभी नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि सरकार अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। reservation In Rajasthan

हाल ही में डॉ. भीमराव अम्बेडकर की 127वीं जयंती पर बिड़ला ऑडिटोरियम में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री राजे यह बात कही। उन्होंने कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने सबको समान अधिकार दिलाने, भेदभाव व कुप्रथाओं के मिटाने तथा पिछड़े तबके को समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। बाबा साहब की सोच थी कि सभी मजहब, सभी जाति, सभी वर्ग एवं 36 की 36 कौमों को साथ लेकर चलने से ही देश आगे बढ़ेगा। reservation In Rajasthan

राजस्थान में एससी-एसटी वर्ग को मिला है पर्याप्त प्रतिनिधित्व: सीएम राजे

मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि बाबा साहब के सपनों को पूरा करते हुए सरकार अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के हितों की रक्षा के लिए हमेशा से प्रतिबद्ध है। इसके तहत विभिन्न पदों पर इन्हें पर्याप्त प्रतिनिधित्व मिला है। भामाशाह रोजगार सृजन योजना के अन्तर्गत एससी व एसटी के लिए ब्याज अनुदान दर को 4 से बढ़ाकर 8 प्रतिशत किया है। उद्योग की स्थापना हेतु ऋण राशि 5 लाख से बढ़ाकर 10 लाख की है। एससी के युवाओं के लिए हमने विनिर्माण क्षेत्र में उद्यम लगाने हेतु ऋण राशि 10 लाख के बढ़ाकर 25 लाख की है। एससी की महिलाओं के पक्ष में अचल सम्पत्ति की ट्रांसफर डीड पर स्टाम्प शुल्क घटाकर 3 प्रतिशत किया। reservation In Rajasthan

reservation In Rajasthan

सीएम राजे ने कहा कि जयपुर व कोटा शहर के छात्रावासों में रहने वाले एससी छात्रों को मुख्यमंत्री निःशुल्क कोचिंग योजना के माध्यम से आईआईटी, आईआईएम, लॉ, राष्ट्रीय स्तर के मेडिकल और राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान में प्रवेश की तैयारी सरकार द्वारा निःशुल्क करवाई जा रही है। साथ ही अम्बेडकर फैलोशिप योजना एवं अम्बेडकर सहकारी बैंकों से एससी वर्ग के कृषकों को करीब 10 हजार करोड़ रुपए के अल्पकालीन ऋण वितरित किए जा चुके हैं।

अनुसूचित जाति एवं जनजाति के युवाओं के लिए अनूठी योजना लाएगी राजे सरकार

मुख्यमंत्री ने घोषणा करते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा अनुसूचित जाति एवं जनजाति के युवाओं के लिए उद्योग में रोजगार के और अधिक अवसर सृजित करने के लिए एक ऐसी योजना लाई जा रही है जो देश में अपने किस्म की पहली योजना है। इसके तहत यदि किसी उद्यम में राजस्थान के मूल निवासी एससी-एसटी के कर्मचारी 15 प्रतिशत से अधिक नियुक्त किए जाते हैं तो प्रत्येक एससी-एसटी कर्मचारी के लिए एम्पलॉयमेंट सब्सिडी 5000 से 10 हजार रुपए की जाएगी।

यानि अधिकतम कुल सब्सिडी 85 हजार रुपए प्रति व्यक्ति प्रतिवर्ष दी जाएगी। सीएम राजे ने घोषणा करते हुए कहा कि सरकारी भर्तियों में भाग लेने वाले वे सभी युवा जिनके परिवारों की वार्षिक आय 2.50 लाख रुपये से कम है, उनके फॉर्म की फीस भी एससी, एसटी, महिला एवं विशेष दिव्यांग अभ्यर्थियों के समकक्ष ही ली जाएगी।

अधिक जानिए: क्या नकदी (कैश) की कमी सिर्फ एक प्रचार मुद्दा है या क्या यह असली है?

प्रदेश का सौभाग्य कि ऐसी जुझारू सीएम मिलीं: राज्यपाल reservation

कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल कल्याण सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग का विशेष ध्यान रखती हैं। राज्य सरकार ने इस वर्ग के उत्थान के लिए कई योजनाएं चला रखी हैं। उन्होंने कहा कि सीएम राजे के कुशल नेतृत्व में प्रदेश आगे बढ़ रहा है। राजस्थान का सौभाग्य है कि यहां के लोगों को उनकी जैसी जुझारू और दूरदर्शी मुख्यमंत्री मिली हैं। reservation In Rajasthan 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here