Temple Town

अब जयपुर के खाटूश्यामजी मंदिर क्षेत्र को एक ‘टेम्पल टाउन’ के रूप में विकसित किया जाएगा। इस योजना के तहत यहां 66 करोड़ रूपए के विकास कार्य किए जाएंगे। इससे देशभर से आने वाले श्रद्धालुओं को खाटूश्यामजी कस्बे में बेहतर यात्री सुविधाएं मिलेंगी। यह घोषणा मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने खाटू धाम के विकास के लिए खाटू मंदिर विकास समिति एवं अधिकारियों के साथ चर्चा करते हुए की। साथ ही ग्राम पंचायत खाटूश्यामजी को अब नगरपालिका का दर्जा दिया गया है। Temple Town

इससे खाटूश्यामजी क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी और इस क्षेत्र का सुनियोजित विकास होगा। जनसंवाद कार्यक्रम में खाटूश्यामजी के स्थानीय निवासियों ने यह मांग की थी। मुख्यमंत्री राजे कर रही थी। इस मौके पर देवस्थान राज्यमंत्री राजकुमार रिणवा भी उपस्थित थे। Temple Town

Temple Town

बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि कस्बे की आंतरिक और बाहरी सड़कों के विकास पर 41 करोड़ रूपए तथा यात्रियों के ठहरने और जन सुविधाओं के लिए 25 करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे। उन्होंने श्री खाटूश्यामजी धाम में श्याम बाबा के दर्शन किए एवं पूजा की। पूजा-अर्चना के बाद मुख्यमंत्री खाटूश्यामजी के भक्तों के बीच पहुंच गईं और उनसे बातचीत की। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने 15 अप्रैल को ट्रोमा सेन्टर का शिलान्यास करने के निर्देश दिए। Temple Town

32 करोड़ रूपए की परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास Temple Town

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने दांतारामगढ़ विधानसभा क्षेत्र की 32 करोड़ रूपए से अधिक लागत की परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए। उन्होंने भारीजा से डांसरोली तक 7.5 करोड़ रूपए की लागत वाली सड़क के चौड़ाईकरण तथा 15.75 करोड़ रूपए की लागत से सात अन्य सड़कों के नवीनीकरण कार्यों का शिलान्यास और 1.75 करोड़ रूपए से निर्मित दांतारामगढ़ के तहसील भवन तथा 7.47 करोड़ रूपए की लागत से तैयार ग्रामीण गौरवपथ मार्गों का लोकार्पण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने खण्डेला कस्बे में 9 करोड़ 28 लाख रुपये की लागत से बनने वाले 4 किलोमीटर बाईपास निर्माण की घोषणा भी की। दादिया रामपुर से बधाल तक सड़क निर्माण के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश भी दिए गए हैं।

Temple Town

मेधावी छात्राओं को स्कूटी और लैपटॉप भेंट

मुख्यमंत्री राजे ने दो बालिकाओं को पद्माक्षी योजना के तहत तथा 7 बालिकाओं को बिखरी जनजाति योजना के तहत स्कूटी वितरित की। उन्होंने 4 छात्राओं को निःशुल्क लैपटॉप भी बांटे।

खिलाड़ियों के प्रोत्साहन के लिए सभी जिलों में लगेंगे शिविर

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने के लिए जरूरी है कि उन्हें सरकार की ओर से दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि एवं अन्य संसाधनों का वितरण समय पर हो। इसके लिए उन्होंने जिला स्तर पर विशेष शिविर लगाने के लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव खेल जेसी महान्ति को निर्देश दिए।

पेयजल परियोजना पूरी करने और अतिक्रमण हटाने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने जलदाय विभाग के अधिकारियों से रींगस में 5 करोड़ रूपए की पेयजल परियोजना को शीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया। साथ ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कांवट में अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने पटवारी का बास गांव में चारागाह भूमि पर बने मकानों के एवज में सिवायचक भूमि से चारागाह भूमि का डायवर्जन करने के प्रस्ताव तैयार करने को भी कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here