बसपा के 6 विधायक जोड़ बहुमत में आई गहलोत सरकार, मायावती के आदेशों की फिर उड़ी धज्जियां, भाजपा भी परेशान

0
101

जयपुर। राजस्थान में कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार को बाहर से समर्थन दे रही मायावती की पार्टी बसपा के सभी 6 विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। बता दें कि बसपा के सभी विधायकों को 4 महीने पहले चेतावनी दी थी कि पार्टी की सोच और विचारधारा के खिलाफ न जाए। बसपा विधायक सोमवार रात करीब 9:30 बजे पहले मुख्यमंत्री गहलोत से मिले। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष जोशी से मिलकर देर रात कांग्रेस में विलय का पत्र सौंपा। विलय को जोशी ने मंजूरी दे दी। इसके बाद तमाम बसपा विधायक रात 11 बजे राजस्थान यूनिवर्सिटी स्थित गेस्ट हाउस पहुंचे और मर्जर का औपचारिक ऐलान किया।

सामने थी बहुत चुनौतियां
पूर्व बसपा के विधायक जोगिंदर सिंह अवाना ने कहा, हम सभी ने कांग्रेस में शामिल होने का फैसला इसलिए किया क्योंकि हमारे सामने बहुत सी चुनौतियां थी। एक तरफ हम कांग्रेस सरकार का समर्धन कर रहे थे और दूसरी तरफ हम उनके खिलाफ संसद में चुनाव लड़ रहे हैं। इसलिए हमने हमारे निर्वाचन क्षेत्रों के विकास और हमारे राज्य के लोगों के कल्याण को देखते हुए हमने यह कदम उठाया है।

BSP विधायक ने लगाया था मायावती पर आरोप
बीते अगस्त महीने की शुरुआत में राजस्थान के बीएसपी विधायक ने पार्टी सुप्रीमो मायावती पर पैसे लेकर टिकट देने का आरोप लगाया था। विधायक राजेंद्र गुप्ता ने आरोप लगाया था, ‘हमारी पार्टी बसपा में पैसे लेकर टिकट दिया जाता है। कोई और ज्यादा पैसे दे देता है तो पहले वाले का टिकट कट जाता है। अगर किसी तीसरे ने और पैसे दे दिए फिर दोनों का टिकट कट जाता है।’

गहलोत सरकार को पूर्ण बहुमत
आपको बता दें, प्रदेश में 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 99 जबकि बीजेपी को 73 और बीएसपी को 6 सीटें मिली थीं। जिसके बाद अब इन छह विधायकों के कांग्रेस में आ जाने से कांग्रेस पूर्ण बहुमत में आ गई है। गहलोत सरकार पूरी तरह से सुरक्षित हो गई है।

मायावती और बीजेपी के लिए बड़ा झटका
बीएसपी के सभी छह विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने जाने से मायावती को तो बड़ा झटका लगा ही है लेकिन बीजेपी को भी झटका लगा है। दरअसल, प्रदेश में निकाय और पंचायत चुनाव होने वाले हैं और उससे पहले ही कांग्रेस ने अपना कुनबा और मजबूत कर लिया है। कांग्रेस निकाय और पंचायत चुनाव में जीत हासिल करने के लिए इस बार सदस्यता अभियान पर खासा जोर दे रही है।

2008 में भी कांग्रेस में शामिल हुए थे BSP के विधायक
मायावती के लिए यह बड़ा झटका है। यह दूसरा मौका है जब बसपा विधायक कांग्रेस में शामिल हुए हैं। इससे पहले, 2008 में बसपा के छह विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए थें। उस वक्त भी राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ही थे।

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here