vasundhara-raje

Network18 द्वारा आयोजित RisingRajasthan कार्यक्रम में सूबे की मुख्यमंत्री राजे ने प्रदेश के वर्तमान हालातों पर नज़र डाली तथा बताया कि वर्तमान राजस्थान और 5 साल पहले के राजस्थान में कितना परिवर्तन आया है। होलट क्लार्क्स आमेर में आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि देश को सबसे ऊपर रखना ही राष्ट्रवाद है। उन्होने कहा कि देश में अब राजनीति को छोड़कर विकास की बात होनी चाहिए। मुख्यमंत्री राजे ने मीडिया को एपने एथिक्स बनाने की सलाह भी दी। उन्होने कहा कि मीडिया को गुड न्यूज पर फोकस करना चाहिए और सकारात्मक खबरों को तरजीह देनी चाहिए।

risinng-rajasthan

घायलों के दर्द को करीब से जाना, यादें आज भी ताजा

मुख्यमंत्री राजे के सेशन से पहले करगिल विजय दिवस पर संवाद चल रहा था। इस सत्र में माउंट एवरेस्ट फतह करने वाली दीपिका राठौड़ और महावीर चक्र विजेता दिगेंद्र कुमार ने अपनी बहादूरी औऱ सेना के जज्बे को सबके सामने रखा। #RisingRajasthan कार्यक्रम में मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि करगिल युद्ध के समय वे खुद अटल बिहारी सरकार में विदेश मंत्री का जिम्मा संभाल रही थी और इस पद पर रहते हुए उन्हे शहीदों और युद्ध में घायलों के दर्द को करीब से जानने का मौका मिला। उन्होने कहा कि वो वातावरण बेहद गमगीन और रूंआसा होता था उसकी यादें आज भी जेहन में ताजा है। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री राजे ने करगिल शहिदों की वीरांगनाओं का सम्मान किया।

पंजाब से पानी की समस्या का जल्द निकलेगा हल

मुख्यमंत्री राजे ने  राजस्थान के विकास के परिदृश्य में कहा कि इंदिरा गांधी नहर परियोजना से पानी लेकर किसानों की परेशानी को समझती है और पंजाब से आने वाले पानी की समस्या का समाधान राजस्थान अकेले नही कर सकता। हालांकि राजस्थान सरकार केंद्र की सहायता से पंजाब के साथ पानी की समस्या को दूर करने के लिए उचित हल निकाल रही है।

गेम चेंजर युग में सरकारी नौकरी पर नही रहे निर्भर

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि राजस्थान में स्मॉल विलेजेज को ट्यूरिज्म स्पॉट बनाने के लिए बड़े पर्यटक स्थलों को अच्छे से विकसित किए जाने की आवश्यकता होती है। जहां बड़े पर्यटन स्थल विकसित होते है वहां उनके आस-पास अपने आप ही अन्य हब्स बन जाते है, ये हब्स जैसे बढ़ते है तो पर्यटन सर्किट बनते है और यहां पर्यटन की संभावना खुद ब खद पनपने लगती है। राजस्थान सरकार भी इस दिशा में शुरूआत कर चुकी है। मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि डिजिटल टेक्नोलॉली का युग गेम चेंजर साबित हो रहा है इस युग में निवेश आवश्यक है जिससे प्रदेश में नई जॉब्स का मौका मिलेगा। उन्होने कहा कि इस डिजिटल की दुनिया में हमें सरकारी नौकरी के ऊपर निर्भर नही रहना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here