पीले चावल

अक्सर ऐसा कहा जाता है कि हमारी इनकम तो अच्छी है लेकिन पैसा घर में रूकता नहीं है। कितनी भी सेविंग कर लो लेकिन कुछ न कुछ ऐसा हो ही जाता है कि जेब अक्सर खाली रहती है। अगर आप भी उनमें से एक हैं तो पीले चावल का यह उपाय आपके लिए कारगर साबित हो सकता है। असल में हिंदू धर्म के अनुसार अक्षत यानी चावल का बहुत महत्व होता है।

Read more: दुनिया के 5 सबसे सस्ते देश, जहां भारत का 1 रुपया होता है 350 के बराबर 

पूजा की आवश्यक सामग्रियों में से एक है अक्षत यानि चावल, जिसके बिना पूजा संपन्न तो क्या आरंभ भी नहीं हो सकती। चावल का उपयोग हर छोटी से लेकर बड़ी पूजा या हवन सामग्री में होता है। यही वजह है कि ज्योतिषीय उपायों में भी चावल का बहुत महत्व है। आज हम आपको बताते हैं कि कैसे पीले चावल का एक उपाय आपकी रूपए—पैसों से जुड़ी हर तरह की तकलीफ को समाप्त कर सकता है।

पीले चावल

  • शुक्रवार या किसी एकादशी के दिन सुबह उठें। नहाने के बाद मां महालक्ष्मी की तस्वीर या मूर्ति के सामने अपना आसन लगा लें।
  • चावलों को पीला करने के लिए हल्दी में थोड़ा जल मिलाएं और फिर उस हल्दी को चावलों पर लगाकर कुछ देर सूखने के लिए रख दें। इसके बाद ही इन चावलों का उपयोग पोटली बनाने के लिए करें। मान्यता हे कि इस उपाय को करने से कुद ही दिनों में धन लाभ होता है और साथ ही धन से जुड़ा कोई भी बड़ा नुकसान भी टल जाता है।
  • अब कुल 21 पीले चावल लें और उसे लाल रंग के रेशनी कपड़े में बांधकर छोटी सी पोटली बना लें। ध्यान रखें कि चुने गए 21 चावल खंडित न हो।
  • इस पोटली को पूजा के दौरान लक्ष्मी मां के सामने रख दें। पूरे विधि—विधान से लक्ष्मीजी की पूजा खत्म करने के बाद यह पोटली अपने पर्स में या फिर घर के उस स्थान पर रख दें जहां धन रखा जाता हो और धन की देवी से यह प्रार्थना करें कि आपको कभी पैसे की कोई कमी ना हो। यह उपाय करने के बाद से ही आपकी दरिद्रता धीरे—धीरे खत्म होने लगेगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here