रेजीडेंट डॉक्टरों की सरकार से वार्ता आज , मांगे पूरी नहीं हुआ तो कल करेंगे हड़ताल

0
111

जयपुर। रेजीडेंट डॉक्टर काफी लंबे समय से अपनी सुरक्षा सहित 4 सूत्रीय मांगों को लेकर अपना विरोध कर रहे है। सोमवार को चिकित्सा मंत्री और अधिकारियों के साथ उनकी वार्ता होने वाली है। जार्ड पदाधिकारियों का कहना है अगर वार्ता में कोई हल नहीं निकला, तो राजस्थान के रेजिडेंट चिकित्सक मंगलवार से हड़ताल करेंगे। जयपुर एसोसिएशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स (जार्ड) अध्यक्ष अजीत बागड़ा ने बताया कि इससे पहले रेजिडेंट चिकित्सकों की 4सूत्रीय मांगों पर 16 नवंबर को स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा के साथ वार्ता हुई थी। तब उनकी मांगों पर समाधान के लिए 15 दिन का समय मांगा था। 30 नवंबर को मंत्री को फिर मांगों का ज्ञापन दिया। मंत्री ने मंगलवार को वार्ता के लिए आमंत्रित किया है। रेजिडेंट चिकित्सकों की मुख्य मांगों में फीस वृद्धि पर रोक लगाना, एचआरए बढ़ाना तथा पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था करना है।

423 गार्ड चाहिए, लेकिन 300 ही कर रहे ड्यूटी
रेजीडेंट डॉक्टरों का कहना है सवाई मानसिंह अस्पताल में चिकित्सकों और परिजनों में आए दिन हो रही मारपीट की घटनाओं के बाद अब तक भी उचित संख्या में गाड्र्स (सुरक्षाकर्मी) नहीं लगाए जा रहे हैं। दरअसल अस्पताल में गार्ड की व्यवस्था करने वाली कंपनियां ही टेंडर की शर्तों को पूरा नहीं कर पा रही है। यहां 423 गार्ड चाहिए, लेकिन अभी तक महज 300 गार्ड ही ड्यूटी कर रहे हैं। इससे अस्पताल प्रशासन ने बाउंसर्स लगा दिए। लेकिन उनका विरोध हुआ, तो एक ही दिन में बाउंसरों को हटा दिया गया। सुरक्षा व्यवस्था के सही करने के आश्वासन के बाद भी जब सिक्योरिटी गार्ड नहीं लगाए गए।

रेजीडेंट डाॅक्टर्स ने निकाला कैंडल मार्च
राजस्थान रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन की ओर से रविवार शाम को हैदराबाद में महिला डाॅक्टर के साथ हुए दुष्कर्म और हत्या के मामले में कैंडल मार्च निकालकर विरोध प्रकट किया गया। एसोसिएशन की ने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। इस मौके पर डॉ. देवराज राव, डॉ नितेश भास्कर, लोकेश लाम्बा मौजूद थे।

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here