cm-raje

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने प्रदेश की महिलाओं को एक बार फिर सम्मान दिया है। महिला मुख्यमंत्री होने के नाते मुख्यमंत्री राजे ने महिलाओं का दुख, दर्द समझते हुए कई योजनाओं को लागू किया है जिनसे आज हमारे प्रदेश की महिलाएं समाज में सम्मान और स्वावलंबन का जीवन यापन कर रही है। मुख्यमंत्री राजे ने प्रदेश की महिलाओं को पेंशन का तोहफा दिया है। इस तोहफे में सजाम की विशेष महिलाओं को आज से पेंशन मिलनी शुरू हो गई है।

आज मिलेगी समाज की विशेष महिलाओं को पेंशन का तोहफा

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा वर्ष 2017-18 के बजट में की गई घोषणा के अनुरूप सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री सम्मान पेंशन योजना के अंतर्गत विधवाओं, परित्यक्ताओं, तलाकशुदा एवं विशेष योग्यजनों को बढ़ी हुई पेंशन का लाभ 1 जुलाई, 2017 से मिलना शुरू होगा।

women

6 लाख 23 हजार पेंशनरों को मिलेगा लाभ

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. अरूण चतुर्वेदी ने बताया कि लगभग 6 लाख 23 हजार से अधिक पेंशनरों को बढ़ी हुई पेंशन का लाभ मिलेगा, जिसमें 0 से 75 वर्ष के 4 लाख से अधिक विशेष योग्यजनों को एवं 60 से 74 वर्ष के 1 लाख 84 हजार 295 एवं 75 वर्ष से अधिक आयु के 39 हजार 27 विधवा महिलाओं को बढ़ी हुई पेंशन का लाभ मिलेगा।

1500 रुपये हो गई है पेंशन

मंत्री डॉ. चतुर्वेदी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री एकल नारी सम्मान पेंशन योजना अंतर्गत विधवा, परित्यक्ता एवं तलाकशुदा, 60 वर्ष से 75 वर्ष तक की आयु की पेंशनधारी महिलाओं को रुपये 500 से बढ़ाकर रुपये 1000 एवं 75 वर्ष से अधिक आयु वाली महिला पेंशनरों को पेंशन राशि रुपये 750 से बढ़ाकर रुपये 1500 की गई है।

विशेष योग्यजन महिलाओं को मिलेगी पहले से ज्यादा पेंशन

इसी प्रकार मुख्यमंत्री विशेष योग्यजन सम्मान पेंशन योजना के तहत 0 से 75 वर्ष तक की आयु वर्ग के पेंशनरों की आयु सीमा समाप्त कर सभी पेंशनरों को 750 रुपये की पेंशन दी जायेगी। पूर्व में 0 से 8 वर्ष तक आयु वर्ग के विशेष योग्यजनों को 250 रुपये एवं 8 से 75 वर्ष तक के विशेष योग्यजनों को 500 रुपये की पेंशन दी जा रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here