राजस्थान सरकार ने आरोग्य राजस्थान अभियान को स्वीकृति प्रदान की राजस्थान देश का एक विकासशील प्रदेश हैं। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने प्रदेश को विकसित और उन्नत बनाने के लिए कई प्रयास किए हैं। प्रदेश के लोगों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसलिए राज्य सरकार ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना और आरोग्य राजस्थान जैसी महत्वपूर्ण योजनाएं शुरू की हैं। राजस्थान का हर एक व्यक्ति स्वस्थ हो तथा आरोग्य हों इसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा कई योजनाओं पर काम किया जा रहा हैं। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आरोग्य राजस्थान अभियान चलाया जिससे प्रदेश के सभी निवासियों को समान स्वास्थ्य लाभ मिल सकें।

img-20160117-wa0009

ग्रामीण आबादी के मिलेगा तत्काल रोग निदान

राजस्थान सरकार ने दिसंबर 2015 से मार्च 2016 तक आरोग्य राजस्थान अभियान चलाया। इस अभियान से प्रदेश की ग्रामीण आबादी के स्वास्थ्य आंकडों को संकलित किया गया। अभियान के तहत ग्रामीण निवासियों को तत्काल रोग निदान के लिए स्वास्थ्य कार्ड जारी किए गए। इस कार्ड के प्रयोग से इलाज व अनुवृति रोगियों के लिए उपचार सुविधाएं मुहैया कि जा सकेंगी।

img-20160117-wa0017

पंचायतवार कैंप लगाकर की जाएगी स्वास्थ्य जांच

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आरोग्य राजस्थान अभियान कि क्रियान्विति के लिए करीब 20 करोड़ की अतिरिक्त मंजूरी प्रदान की। राज्य बजट 2015-2016 में प्रदेश में आरोग्य अभियान चलाने की घोषणा की थी। इस अभियान के तहत प्रदेश भर में पंचायत वार कैंप लगाकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी। इसते साथ ही इसे भामाशाह योजना से जोड़ते हुए हैल्थ कार्ड बनाएं जाएंगे। जिससे हैल्थ इंफोर्मेशन नेटवर्क तैयार किया जाएगा। इस डाटाबेस के आधार पर पीडित रोगियों के उपचार की व्यवस्था की जाएगी।

img-20160117-wa0015

आरोग्य राजस्थान मुख्यमंत्री राजे का दूरदर्शी विजन

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने प्रदेश के भविष्य को निरोग औऱ स्वास्थ्य बनाने के इस अभियान से आम जन को कई रोगों के इलाज में फायदा मिलेगा। मुख्यमंत्री के विज़न के अनुसार आरोग्य राजस्थान अभियान से भामाशाह योजना को जोड़ा जाएगा जिससे मरीज प्रदेश के किसी भी अस्पताल में अपना इलाज करवा सकेगा। इस अभियान से मरीज का डाटाबेस तैयार होगा जिसे भामाशाह कार्ड में इनपुट किया जाएगा। अब मरीज के अस्पताल जाने पर संबंधित डॉक्टर को मरीज के बारे में सभी जानकारियां प्राप्त होंगी और उपचार करने में आसानी होगी।

img-20160117-wa0014

ई-हैल्थ कार्ड से स्मार्ट बनेगा राजस्थान

ई-हैल्थ कार्ड बनाने के राज्य सरकार के इस अभिनव नवाचार के अन्तर्गत आशा सहयोगिनी और स्वास्थ्यकर्मी ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर स्वास्थ्य सर्वेक्षण फार्म भरवायेंगे। ई-हैल्थ कार्ड में प्रत्येक व्यक्ति का स्वास्थ्य संबंधी समस्त विवरण अंकित होगा। इससे सम्पूर्ण प्रदेश का स्वास्थ्य संबंधी डाटा बेस तैयार होगा। इस आधार पर हैल्थ इन्फोरमेशन नेटवर्क से जोड़कर पीडि़त व्यक्तियों के इलाज की व्यवस्था हो सकेगी।

प्रदेश में आरोग्य राजस्थान अभियान के ग्राम पंचायत स्तर पर स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन प्रारम्भ किया जा रहा है। प्रदेश की समस्त ग्राम पंचायतों में आयोजित किये जाने वाले इन शिविरों में स्वास्थ्य जांच के साथ ही उपचार एवं गंभीर रोगियों का रैफर कर उनके उपचार की व्यवस्था की जायेगी। इन स्वास्थ्य शिविरों में आने वाले व्यक्तियों को अपने साथ भामाशाह कार्ड, आधारकार्ड, या राशन कार्ड इत्यादि पहचान पत्र साथ लाने के लिए कहा गया है। इससे शिविरों में आये व्यक्तियों के स्वास्थ्य तथ्यों का डिजिटल संकलन भी सुगमता से किया जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here