राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित स्कूल लेक्चरर प्रतियोगी परीक्षा 2015 में चयनित हुए अभ्यर्थियों के लिए खुशखबर है। कोर्ट में इस परीक्षा को लेकर बुधवार को आयोग के पक्ष में फैसला आने के बाद अब इस भर्ती प्रक्रिया को जल्द से जल्द संपन्न कराने की तैयारी शुरू कर दी गई है। अगले सप्ताह के शुरूआत से ही इस परीक्षा के हिंदी समेत 8 विषयों की शेष रही काउंसलिंग शुरू होने की संभावना है।

10 हजार लेक्चरर की होगी काउंसलिंग
इन विषयों के 10 हजार से अधिक नवचयनित लेक्चरर की काउंसलिंग होनी है। इसके साथ ही प्रदेश के सरकारी स्कूलों में 10 हजार से अधिक स्कूल लेक्चरर मिल सकेंगे। फैसला आने के बाद आयोग अध्यक्ष डॉ. ललित के पंवार ने इस संबंध में शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी और शिक्षा सचिव से चर्चा की।

सोमवार से हो सकती हैं काउंसलिंग
साथ ही निदेशालय शिक्षा विभाग से काउंसलिंग के लिए शीघ्र विशेषज्ञ उपलब्ध कराने के लिए भी कहा है। आयोग अध्यक्ष डॉ. पंवार के अनुसार निदेशालय से काउंसलिंग के लिए विशेषज्ञ मांग लिए हैं। इनके आते ही शेष रहे अलग-अलग विषयों की काउंसलिंग शुरू कर दी जाएगी। आयोग सोमवार से ही काउंसलिंग शुरू कराने की तैयारी में है।

इन विषयों के नवचयनित अभ्यर्थियों की होनी है काउंसलिंग

विषय पद
हिंदी 3237
भूगोल 1210
अंग्रेजी 860
संस्कृत 364
इतिहास 1968
राजनैतिक शास्त्र 2256
अर्थ शास्त्र 180
गृह विज्ञान 107
कुल 10182


1668 की नियुक्ति है शेष

आयोग द्वारा जीव विज्ञान 599, भौतिक शास्त्र 822 और कॉमर्स के 247 नवचयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग मामला कोर्ट में जाने से पूर्व करा ली गई थी। लेकिन इनकी नियुक्ति अनुशंसा नहीं की जा सकी थी। आयोग अब इन पदों के लिए नियुक्ति अनुशंसा भेजेगा।

इन विषयों में 1248 की हो चुकी है नियुक्त

आयोग द्वारा राजस्थानी, समाज शास्त्र, चित्रकला, गणित, दर्शन शास्त्र, रसायन विज्ञान, संगीत और सिंधी विषयों के नवचयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग पूर्व में संपन्न करा ली थी। इन विषयों के 1248 अभ्यर्थियों को आयोग की अनुशंसा पर स्कूलों में नियुक्ति भी दी जा चुकी है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here