विदेशी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केन्द्र बना अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त पुष्कर मेले के शुरुआत हो चुकी है। प्रशासनिक इंतजामों की दृष्टि से 8 नवम्बर को मेले का ध्वजारोहण भी हो जाएगा। पंचतीर्थ स्नान 11 नवम्बर से शुरू होगा। देश भर के पशुपालक मेले में पशुओं की खरीद-फरोख्त कर रहे हंै। यूं तो पुष्कर मेला राजस्थान की रंगीली संस्कृति के तौर पर पहचाना जाता था, लेकिन बड़ी संख्या में विदेशी पर्यटकों के शामिल होने से पश्चिम की खुली संस्कृति भी इस मेले में घुस आई। पूर्व और पश्चिम की संस्कृति के घालमेल के अपुरूप ही 6 नवम्बर की रात को अजमेर के जिला कलेक्टर गौरव गोयल और एसपी नितिनदीप ब्लग्गन ने फेस्टीवल ब्वॉय बनकर पुष्कर के रेतीले टीलों पर लुत्फ उठाए। इस लुत्फ में दोनों अफसरों की पत्नियां भी साथ थी। यूं तो कलेक्टर एसपी के साथ पूरा सरकारी लवाजमा होता है, लेकिन 6 नवम्बर को यह दोनों अधिकारी एक आम पर्यटक की तरह घुमें। ऊंट की सवारी के साथ-साथ दोनों ने जमकर फोटोग्राफी भी की। कई मौके पर तो इन दोनों को सरकारी कर्मचारी पहचान भी नहीं पाए। मेले का लुत्फ उठाने के साथ-साथ एसपी, कलेक्टर ने मेले के इंतजामों की भी जांच-पड़ताल की। मेले में 11 नवम्बर के बाद दो दिनों के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के भी आने की संभावना है।

ध्वजारोहण 8 को :

8 नवम्बर को प्रात: 10 बजे पुष्कर के विधायक व संसदीय सचिव सुरेश सिंह रावत मेला मैदान पर ध्वजारोहण करेंगे। इसके साथ ही जिला और पुलिस प्रशासन के अस्थाई कैम्प भी शुरू हो जाएंगे।
(एस.पी.मित्तल)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here