narendra-modi

हमारे प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी 25 हज़ार करोड़ रूपए की लागत से राजस्थान में बनने जा रही सड़कों का शिलान्यास एवं उदघाटन करने प्रदेश में आएंगे। प्रधानमन्त्री मोदी इन सडकों का प्रदेशवासियों के लिए उदघाटन करेंगे। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने प्रधानमन्त्री से इसके लिए आग्रह किया था। इसे मोदी ने सहर्ष स्वीकार किया। कल प्रधानमन्त्री मोदी ने नितिन गडकरी को इस शिलान्यास कार्यक्रम के लिए सहमति दी है। अभी हाल ही में केंद्रीय मंत्री गडकरी ने राजस्थान में एक लाख करोड़ रुपए तक के सड़क प्रस्तावों को मंजूरी देने का वायदा भी किया है।

अभी कार्यक्रम का समय एवं स्थान निर्धारित नहीं:

प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के राजस्थान प्रवास कार्यक्रम का स्थान एवं दिनांक अभी तय नहीं किया गया है। प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे अभी आगामी दिनों में प्रधानमन्त्री मोदी से मुलाकात करेगी। इस मुलाक़ात के बाद यह तय होगा कि मोदी कब आएंगे। इस कार्यक्रम में प्रधानमन्त्री मोदी सड़क निर्माण के इन कार्यों का उदघाटन करने के साथ ही बहुप्रतिक्षित जयपुर-नई दिल्ली सुपर एक्सप्रेस-वे परियोजना की घोषणा भी कर सकते है। करीब 18 हजार करोड़ रु. की इस वृहद् परियोजना को अभी अंतिम रूप दिया जा रहा है।

कई नए प्रोजेक्ट भी है शामिल:

प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जिन प्रोजेक्ट्स का उदघाटन करने राजस्थान आएंगे, उन प्रोजेक्ट्स में प्रदेश सरकार की 15 हजार करोड़ रूपए की तथा केंद्र सरकार की ओर से 10 हज़ार करोड़ रूपए की लागत वहन की गई है। राज्य सरकार की इन परियोजनाओं का कार्य लगभग पूरा हो चुका है, व थोड़ा कार्य अभी प्रगति पर है और जल्द ही पूरा होने वाला है।

इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जयपुर, कोटा एवं जोधपुर की प्रस्तावित रिंग रोड की नींव रखेंगे। इसके साथ ही अभी कोटा में हैंगिंग ब्रिज का काम, जो पूरा हो चुका है, उसका उद्घाटन भी मोदी करेंगे। इस अवसर पर बहुप्रतिक्षित कोटा-दर्रा-झालावाड़ राजमार्ग की आधारशिला रखी जाएगी। इन सबके अतिरिक्त और भी कई बड़े सड़क प्रोजेक्ट के उद्घाटन एवं शिलान्यास के कार्यक्रम रहेंगे। इनमें कई नए प्रोजेक्ट भी शामिल हैं।

जयपुर से दिल्ली एक्सप्रेस-वे से 40 किमी दूरी घट जाएगी:

केंद्र सरकार के सहयोग से प्रदेश में जयपुर से गुरुग्राम तक करीब 195 किमी. लंबे नए एक्सप्रेस-वे का निर्माण किया जा रहा है। इस निर्माणकार्य पर 18 हजार करोड़ रूपए तक की लागत आएगी। हरियाणा एवं राजस्थान की सीमा में बनने वाली इस परियोजना की सड़क के बन जाने के बाद जयपुर से दिल्ली जाने की दूरी 40 किमी घट जाएगी। फिर जयपुर से दिल्ली जाने में दो घंटे का समय ही लगेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here