President

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने दो दिवसीय राजस्थान दौरे पर रविवार को राजधानी जयपुर पहुंचे। सोमवार को सुबह उन्होंने सहपरिवार यहां से अजमेर के लिए उड़ान भरी और दोपहर को पुष्कर स्थित सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के दर पर पहुंचे। यहां उन्होंने अपनी धर्मप​त्नी एवं देश की प्रथम महिला सविता कोविंद और सुपुत्री स्वाति कोविंद के साथ दरगाह में चादर और अकीदत के फूल पेश किए और देश में अमन, चैन और खुशहाली की दुआ मांगी। President

इससे पहले दरगाह पहुंचने पर विभिन्न संस्थाओं ने उनका खास स्वागत किया। दरगाह पहुंचने पर परम्परा के अनुसार शादियानों और नगाड़ों से उनका स्वागत किया गया। दरगाह दीवान सैयद जैनुल आबेदीन अली खान ने स्वागत किया। उन्होंने राष्ट्रपति को भगवत गीता भेंट की। President

इसके बाद राष्ट्रपति ने दस्तारबंदी के साथ मजार शरीफ पर चादर एवं अकीदत के फूल पेश किए। इस दौरान दरगाह कमेटी की ओर से नाजिम आई.बी. पीरजादा, सहायक नाजिम मोहम्मद आदिल एवं मोहम्मद सद्दीक सियाद ने स्वागत कर तलवार भेंट की। दोनों अंजुमन कमेटियों द्वारा उनका स्वागत कर सिपासनामा एवं दरगाह की प्रतिकृति भेंट की गई। President

Read More: कर्नाटक चुनाव की सरगर्मी जारी, राजस्थान में BJP के नए अध्यक्ष को लेकर आई ये खबर

इस मौके पर शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी, महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री अनिता भदेल सहित संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीना, पुलिस महानिरीक्षक मालिनी अग्रवाल, जिला कलेक्टर आरती डोगरा एवं पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह चौधरी उपस्थित रहे।

यहां से महामहीम कोविंद सीधे जयपुर पहुंचे और राजभवन में राज्यपाल कल्याण सिंह से मुलाकात की। राज्यपाल ने राष्ट्रपति को भावभीनी विदाई देते हुए राष्ट्रपक्षी ‘मोर’ की कलाकृति और उनकी धर्मपत्नी को राजस्थानी कला का प्रतीक बंधेज की साड़ी भेंट की। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने उन्हें राजस्थान दौरे की याद के तौर पर उनके दौरे का एलबम गिफ्ट किया। इसके बाद राष्ट्रपति कोविंद ने अपनी पत्नी और पुत्री के साथ विदाई लेते हुए मुंबई के लिए उड़ान ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here