2000 रुपये के नकली नोटों की पिछले एक महीने से सीमा पर पकड़ी जा रही खेपों से अर्धसैनिक बलों और खुफिया एजेंसियों की नींदें उड़ी हुई हैं। इन नोटों के सुरक्षा फीचर्स को देखकर भी भारतीय सुरक्षा एजेंसियों हैरान हैं। बताया जाता है कि भारत-बांग्लादेश सीमा से सीमा सुरक्षा बल ने 2 हजार के नकली नोटों की कई खेप बरामद की है ।

बीएसएफ को दी जाएगी स्पेशल ट्रेनिंग

इसके बाद सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) अपने जवानों को नकली नोट की पहचान करने को लेकर ट्रेनिंग दिलवाने के लिए रिजर्व बैंक से बातचीत कर रहा है। इससे भारत-पाकिस्तान और भारत-बांग्लादेश सीमा पर नकली नोटों की तस्करी पर लगाम लगा पाना आसान होगा

पाक ने 2,000 को नोट के सिक्यॉरिटी फीचर्स किए कॉपी

बीएसएफ के अनुसार इन नकली नोटों में नए 2,000 रुपये के नोटों में दिए गए आधे से ज्यादा सिक्यॉरिटी फीचर्स को कॉपी कर लिया गया है। इसलिए आरबीआई से जवानों और अधिकारियों को 2,000 रुपये के नोटों की पहचान के लिए ट्रेनिंग देने के लिए बात चल रही है। जिससे वे जल्द ही नोटों की पहचान करने में कामयाब होंगे ।

भारत-बांग्लादेश बॉर्डर से आ रहे हैं नकली नोट

बोर्डर सिक्योरिटी फोर्स (बीएसएफ) और नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने हाल ही में नकली नोट बरामद किए थे। अधिकारियों के मुताबिक भारत-बांग्लादेश बॉर्डर के जरिए इन 2000 के नकली नोटों को भारत भेजा गया। माना जा रहा है कि यह नोट पाकिस्तान में छप रहे हैं और कई तरीकों से उन्हें तस्करी कर भारत में लाने की कोशिश की जा रही है।

17 में से 11 सुरक्षा मानकों की हू-ब-हू नकल

एक खबर अनुसार 2,000 रुपए के नकली नोट पाकिस्तान से भारत में बांग्लादेश के रास्ते आ रहे हैं। अखबार ने सरकारी सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ये जानकारी राष्ट्रीय जांच एजेंसी और बीएसएफ के हाल ही में कई लोगों को गिरफ्तारी और नकली नोट जब्त किए जाने पर मिली है। जांचकर्ताओं का कहना है कि इन नकली नोटों में 17 में से 11 सुरक्षा मानकों की हू-ब-हू नकल की गई है।

नोटबंदी के बाद 2,000 और 500 के नोट ये कहते हुए जारी किए गए थे कि इनके सिक्यूरिटी फीचर्स को कॉपी करना आसान नहीं होगा। इससे जॉली नोटों की तस्करी रोकने में भी मदद मिलेगी, हालांकि नए नोटों की ये खास विशेषताएं भी पाकिस्तान में बैठे नकली नोट तस्करों पर नकेल कसने में नाकामयाब होती नजर आ रही हैं। जांच से जुड़े अधिकारियों ने आशंका जाहिर की है जल्द ही ये नकली नोट भारतीय बाजार में पहुंच सकते हैं।

आईएसआई की मदद से पाक में छापे जा रहैं हैं जॉली नोट

राष्ट्रीय जांच एजेंसी और सीमा सुरक्षा बल भारत-बांग्लादेश बॉर्डर से अब तक कई लोगों को जाली नोटों के साथ पकड़ चुके हैं। ताजा मामला 8 फरवरी का बताया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक, 8 फरवरी को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में अजीजुर रहमान नामक शख्स को 2,000 के 40 नकली नोटों के साथ पकड़ा गया था। पूछताछ में उसने खुलासा किया कि जॉली नोटों को आईएसआई की मदद से पाक में छापा गया है जिन्हें बांग्लादेश सीमा से भारत में लाया गया। हर 2,000 के नोटों के लिए तस्करों को 500-600 रुपए देने होते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here