neet-2017

देशभर के मेडिकल और डेंटल कोर्स में दाखिले के लिए केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से आयोजित हुई राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) का परिणाम आज शुक्रवार को घोषित कर दिया गया। राष्ट्रीय स्तर की इस प्रवेश परीक्षा के परिणामों पर नज़र डालें तो पता चलता है कि टॉप-10 में से 5 विद्यार्थी राजस्थान की शिक्षानगरी कहे जाने वाले कोटा शहर से है। कोटा से अखिल भारतीय स्तर पर दूसरी, तीसरी, चौथी, पांचवीं और सातवीं रैंक आई है। वहीँ पंजाब के नवदीप सिंह ने पहला स्थान हासिल किया है।

कई दिनों से अटका हुआ था परिणाम:

इस वर्ष 7 मई को देशभर के 1921 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित हुई इस मेडिकल प्रवेश परीक्षा का परिणाम बड़ी लम्बी प्रक्रिया से गुज़रकर आया है। परीक्षा के दौरान हुई कई तरह की गड़बड़ियों के कारण इस परीक्षा को मद्रास हाई कोर्ट से लेकर उच्चतम न्यायालय तक में चुनौती दी गई थी। मद्रास हाईकोर्ट ने रिजल्ट पर रोक लगा दी थी। फिर उच्चतम न्यायालय ने मद्रास हाईकोर्ट के फैसले पर अंतरिम रोक लगाते हुए सीबीएसई को 26 जून से पहले नीट के नतीजे जारी करने के निर्देश दिए थे।

कोटा में हुआ उत्सव का माहौल:

इतने दिनों से लंबित पड़े हुए नीट परीक्षा का परिणाम जारी होते ही कोटा में खुशियों की लहर दौड़ गयी। शहरभर में उत्साह का माहौल उमड़ आया है। प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थानों में ढोल बजाकर, मिठाइयां बांटकर खुशियां मनाई जा रही हैं। राष्ट्रीय स्तर की इस प्रवेश परीक्षा के परिणाम द्वारा देश की सभी एमबीबीएस और बीडीएस सीटों पर पात्र विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जायेगा।

मेडिकल और इंजीनियरिंग में प्रवेश की तैयारी के लिए देशभर में भरोसेमंद नाम है कोटा:

आज देशभर के इंजीनियरिंग और मेडिकल संस्थानों में प्रवेश की तैयारी करने के लिए कोटा एक ब्रांड बन चुका है। देश के हर राज्य के लगभग हर ज़िलें से यहाँ विद्यार्थी पढ़ाई करते है।मेडिकल और इंजीनियरिंग प्रवेश की तैयारी करने के लिए पूरे देश में विख़्यात कोटा शहर की 7 प्रमुख कोचिंग संस्थानों में हर साल एक लाख से ज्यादा विद्यार्थी तैयारी के लिए आते हैं। इतनी बड़ी संख्या में विद्यार्थियों के आने के कारण आज कोटा को देश की एजुकेशन सिटी के नाम से जाना जाता है।

पिछले कुछ सालों में बढ़ा है कोटा का दबदबा:

राजस्थान सरकार के शिक्षा में निरंतर किये जा रहे सुधारों की वजह से आज कोटा का देशभर में दबदबा बढ़ा है। पिछले कुछ सालों को देखें तो पता चलता है कि कोटा ने हर साल, पिछले साल से बढ़कर परिणाम दिया है। जेईई मैन्स और एडवांस में कोटा की कोचिंग संस्थानों का बेहतरीन परिणाम आने के बाद कुछ दिन पहले ही जारी हुए एम्स प्रवेश परीक्षा के परिणाम में टॉप-10 तक की रैंक कोटा के कोचिंग संस्थान से आई थी। इसके बाद नीट परिणाम में भी कोटा का शानदार प्रदर्शन होने के कारण कोटा की साख़ बढ़ी है।

Image Source: Chandigarh Metro

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here