अलवर में नहीं थम रही मॉब लिंचिंग की घटनाएं, भीड़ द्वारा गो-तस्करों की पिटाई से अब गहलोत सरकार शर्मसार

0
78

जयपुर। मॉब लिंचिंग और गौ तस्करी के लिए देशभर में बदनाम हो चुके अलवर जिले में एक बार वैसी ही बड़ी वारदात सामने आई है। अलवर के भिवाड़ी पुलिस जिले के अंर्तगत शाहजहांपुर थाना क्षेत्र में मॉब लिंचिंग की घटना सामने आई है। शाहजहांपुर क्षेत्र के खुसा की ढाणी में देर रात भीड़ ने गोतस्कर की जमकर पिटाई कर डाली। प्राप्त जानकारी के अनुसार, देर रात कुछ लोगों को एक पिकअप दिखी। गोतस्करों की पिकअप पलट गई थी, उसके बाद लोगों ने उन्हें पकड़ लिया और एक गोतस्कर की जमकर पिटाई कर दी। पिकअप से उतरकर 2-3 गोतस्कर फरार हो गए, लेकिन एक गोतस्कर मुनफेद भीड़ के हत्थे चढ़ गया। लोगों ने उसकी पिटाई की और पुलिस को बुला लिया। पुलिस ने गोतस्कर मुनफेद को भीड़ से छुड़वाकर शाहजहांपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

नाकाबंदी तोड़ भाग रहा था आरोपी
मॉब लिंचिंग की घटना शाहजहांपुर इलाके में रविवार देर रात डेढ़ जे खुसा की ढाणी में हुई। मुनफेद खान वहां पुलिस की नाकाबंदी को तोड़कर भागने की कोशिश कर रहा था, लेकिन हड़बड़ाहट में वह भीड़ के हत्थे चढ़ गया। वहां भीड़ ने मुनफेद खान को पकड़कर उसकी जबर्दस्त पिटाई कर डाली। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मुनफेद को भीड़ से किसी तरह से बचाया और तत्काल शाहजहांपुर अस्पताल में भर्ती कराया।

मारपीट में आरोपी को कई फ्रैक्चर
बताया जा रहा है कि मारपीट में मुनफेद को कई फ्रैक्चर हुए हैं। पुलिस ने मुनफेद की गाड़ी से सात गोवंश को बरामद किया है। उसके खिलाफ पूर्व में भी गोतस्करी के मामले दर्ज बताए जा रहे हैं। भीड़ का शिकार हुआ गौ तस्कर पुलिस की नाकाबंदी तोड़कर भाग रहा था।

नहीं थम रही मॉब लिंचिंग
अलवर जिले में मॉब लिंचिंग की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। इससे पहले भी अलवर में पहलू खान मॉब लिंचिंग, रकबर प्रकरण, उमर प्रकरण के बाद एक बार फिर गोवंश को लेकर यह मामला सामने आया है। अलवर जिला गोतस्करी और मॉब लिंचिंग की घटनाओं को लेकर पिछले दो सालों से नकारात्मक सुर्खियों में रहा है। अब ऐसा एक और मामला सामने आया है, जहां लोगों ने गोतस्कर की पिटाई की है।

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here