Lalu Prasad Yadav Fodder Scam verdict

चारा घोटाले के एक और मामले में दोषी बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की सजा पर शुक्रवार को एक अजीब वाकया हुआ। कोर्ट में चली रही बहस के बची लालू ने सीबीआई जज शिवपाल से कहा कि ‘हुजूर, जेल में ठंड बहुत लगती है।’ उनके इस प्रश्न पर जज शिवपाल ने एक ऐसा जवाब दिया जो वाकई में खास है। जज शिवपाल ने लालू से कहा कि ‘जेल में हरमुनिया, तबला बजाइए और मस्त रहिए।’ Lalu Prasad Yadav Fodder Scam verdict

सीबीआई कोर्ट राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और 10 अन्य के खिलाफ चारा घोटाले के एक मामले में शनिवार को सजा सुना सकती है। कोर्ट में शुक्रवार को इनकी सजा पर बहस पूरी हो गई जबकि पांच अन्य की सजा पर बहस एक दिन पहले ही हो गई थी। लालू के वकील चितरंजन प्रसाद ने बताया कि लालू की विशेष सीबीआई जज शिवपाल सिंह की कोर्ट में वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के जरिए बिरसा मुंडा जेल से पेशी कराई गई। Lalu Prasad Yadav Fodder Scam verdict

असल में बातों का सिलसिला लालू ने ही शुरू किया। उन्होंने जज को कहा कि जेल में कई परेशानियां हो रही हैं। लोगों को मिलने नहीं दिया जा रहा। ठंड भी बहुत लगती है। इस पर जज ने कहा कि तभी तो आपको कोर्ट में बुलाते हैं, ताकि आप अपने लोगों से मिल लें। Lalu Prasad Yadav Fodder Scam verdict

Read more: पचपदरा में लगने वाली रिफाइनरी बनेगी देश में एक मॉडल: मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे

ठंड लगती है तो जेल में हरमुनिया, तबला बजाइए और मस्त रहिए। आगे लालू ने कहा कि मैंने कुछ नहीं किया है। जवाब में जज ने कहा कि तब आप सीएम थे। वित्त मंत्री भी। आपने त्वरित कार्रवाई नहीं की।

इसके जवाब में लालू ने कहा कि हम भी वकील हैं जज साहब। ठंडे दिमाग से सोचने से सब अच्छा हो जाता है जज साहब। इस पर जज शिवपाल ने जवाब दिया कि जेल में भी कोई डिग्री ले लीजिए। हम किसी की नहीं सुनते। आपके शुभचिंतकों के दूर—दूर से फोन आ रहे हैं। मैं कानून का पालन करूंगा। यदि आपको परेशानी हो तो कांन्फ्रेंसिंग कर सकते हैं।

आपको यह भी बता दें कि कोर्ट अल्फाबेटिकल आॅर्डर में ए से के तक नाम वाले दोषियों की सजा पर सुनवाई पहले होगी। उसी समय लालू यादव की सजा का भी ऐलान किया जाएगा। वर्ष 1990 और 1994 के बीच देवघर कोषागार से 89.27 लाख रुपये अवैध रूप से निकालने के मामले में सजा पर बहस पूरी हो गई। घोटाले के समय लालू बिहार के मुख्यमंत्री थे। उनके अलावा राजद नेता आरके राणा, पूर्व आईएएस अधिकारी फूलचंद सिंह, महेश प्रसाद और पूर्व सरकारी अधिकारी सुबीर भट्टाचार्य, सप्लायर/ट्रांसपोटर्स त्रिपुरारी मोहन प्रसाद, सुशील कुमार सिन्हा, सुनील कुमार सिन्हा, राजा राम जोशी, संजय अग्रवाल और सुनील गांधी को सजा पर भी बहस पूरी हो गई। Lalu Prasad Yadav Fodder Scam verdict

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here