गुजरात के 44 कांग्रेस विधायकों की मेजबानी करना कर्नाटक के कांग्रेस विधायक व मंत्री को भारी पड़ गया। आयकर विभाद ने कर्नाटक के ऊर्जा मंत्री डीके शिवकुमार के यहां कर चोरी के मामले में छापा मारा। इनकम टैक्स की रेड में कुमार से 10 करोड़ रुपए की अघोषित संपत्ति बरामद हुई है। दरअसल, गुजरात में राज्यसभा चुनाव के मध्यनज़र गुजरात कांग्रेस के 44 विधायकों को बुधवार को बेंगलूरू के एक रिजॉर्ट में बाड़ाबंदी के तहत रखा गया था। इस रिजॉर्ट में कर्नाटक सरकार के ऊर्जा मंत्री सहित अन्य कांग्रेस के विघायक भी गुजरात के विधायकों की खिदमत यानी मेजबानी कर रहे थे।

6 से ज्यादा मशीनों से करनी पड़ी नोटों की गिनती

आयकर विभाग ने कर चोरी के मामले में शिवकुमार के 64 ठिकानों पर दबिश दी और संपत्तियों की भी तलाशी ली थी जिससे राजनीतिक तूफान आ गया था। आयकर अधिकारियों ने कहा कि मंत्री से जुड़ी संपत्तियों की तलाशी के दौरान 10 करोड़ रुपये नकद बरामद किए गए। गुजरात राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल कड़े मुकाबले का सामना कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार आयकर विभाग ने रिजॉर्ट सहित उनके घर पर भी दबिश दी थी जहां मंत्री शिवकुमार के एक रिश्तेदार के लॉकर में करोड़ो की मात्रा में गहने भी बरामद हुए है। आपको बतादें कि शिवकुमार के पास मिली नकदी गिनने के लिए दिल्ली से सफदरजंग एन्क्लेव, कर्नाटक के हासन औऱ मैसूर में नोट काउंटिंग की 6 से ज्यादा मशीनों का इस्तेमाल किया गया था।

दिल्ली और कर्नाटक से मिली अवैध नकदी

शिवकुमार पर हुई आयकर की कार्रवाही में दिल्ली के ठिकानों से करीब आठ करोड़ रुपए की नकदी बरामद की गई है इसके अलावा आईटी को कर्नाटक के ठिकानों से करीब 2.5 करोड़ की अघोषित आय बरामद हुई है। जानकारी के अनुसार आयकर विभाग कथित रुप से कर चोरी तथा रीअल एस्टेट और अन्य क्षेत्रों में शिवकुमार के गुप्त निवेश के दस्तावेजों को खंगालने में जुटा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here