जोधपुर-जैसलमेर के बीच नियमित फ्लाइट सेवा शुरू करने से पहले 6 और 8 फरवरी को ट्रायल फ्लाइट शुरू किया जाएगा। पर्यटन एवं एनर्जी व्यवसाय के चलते अब जैसलमेर में हवाई सेवाओं की आवश्यकता अधिक महसूस हो रही हैं। जैसलमेर की इसी आवश्यकता के आंकलन के लिये आगामी 7 फरवरी को भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण की विशेष टीम, नागरिक उड्डयन मंत्रालय के राज्य मंत्री महेश शर्मा के साथ जैसलमेर का दौरा करेंगे।

तीन साल पहले 100 करोड़ की लागत से बना था एयरपोर्ट

जैसलमेर का सिविल एयरपोर्ट तीन साल पहले बन कर तैयार हो चुका है। इस एयरपोर्ट को केवल शुरू होने का इंतजार है। करीब 100 करोड की लागत से बना जैसलमेर का यह एयरपोर्ट सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है लेकिन यहां हवाई सेवाओं के संचालन नहीं होने से सभी सुविधाएं धूल ही फांक रही है।

इंडिगो और जेट जैसी कंपनियां हवाई सेवा शुरू करने के लिए तैयार

कुछ समय पहले इंडिगो कंपनी ने जैसलमेर में हवाई सेवा शुरू करने में रूचि दिखाई थी। वहीं हाल ही में जेट एयरवेज के प्रतिनिधि जोधपुर में भारतीय विमानपतन प्राधिकरण जोधपुर सर्किल निदेशक एस.के. सिंह से मिले थे जेट ने भी जैसलमेर में हवाई सेवाओं की शुरूआत को लेकर अपनी रूचि जाहिर की है। उम्मीद जताई जा रही है कि आगामी दिनों में आने वाली टीम के साथ कई विमान कंपनियों के प्रतिनिधि भी जैसलमेर आएगें।

पर्यटन क्षेत्र में मिलेगी राजस्थान को नई पहचान

जानकारी के अनुसार फिलहाल जोधपुर-जैसलमेर के बीच एक फ्लाइट शुरू की जाएगी। एयरलाइन्स की ओर से सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। यह फ्लाइट शुरू होते ही जोधपुर आने वाले पर्यटकों को जैसलमेर आने-जाने में आसानी रहेगी।

गौरतलब है कि फिलहाल जोधपुर से जैसलमेर जाने के लिए रेल व बस सेवा ही उपलब्ध है और इतनी लंबी दूरी की यात्रा करने में कई पर्यटक हिचकते हैं। जैसलमेर में विगत लम्बे समय से 100 करोड़ की लागत से सिविल एयरपोर्ट बनकर तैयार है, मगर हवाई सेवा शुरू नहीं हुई इसके लिए यहां के पर्यटन व्यवसाइयों में निराशा का माहौल था।

लेकिन, अब सुप्रीम एयरलाइन्स द्वारा ट्रायल फ्लाइट के बाद जल्द ही नियमित हवाई सेवा शुरू करने की खबरों से यहां के पर्यटन में नई जान आ जाएगी।

वहीं आपको बता दें कि  8 फरवरी से जगविख्यात मरू महोत्सव शुरू होने जा रहा है और यह महोत्सव 10 फरवरी तक चलेगा।  इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि इस ट्रायल फ्लाइट में भी ज्यादा यात्रियों के आने की उम्मीद है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here