IPL

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 11वें सीजन के मैच जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में होने पर संशय फिलहाल बना हुआ है। आईपीएल—11 के जयपुर में आयोजन का मामला और भी फंसने की संभावना बढ़ती जा रही है। इसकी वजह है राजस्थान हाईकोर्ट में हुई सुनवाई में देरी। पिछले हफ्ते राजस्थान रॉयल्स के दो अधिकारियों ने एसएमएस स्टेडियम का दौरा कर स्थितियों का जायजा लिया था। उस समय लगने लगा था कि आईपीएल 11 के मैच जयपुर में हो सकते हैं लेकिन अब दूर—दूर तक इसकी कोई संभावना नजर तो नहीं आ रही हैं।

IPL

राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन को अभी भी बीसीसीआई से जुड़ने का इंतजार है। इसके लिए राजस्थान हाईकोर्ट की 12 जनवरी को हुई सुनवाई में 18 जनवरी को गुप्त मतदान करने का फैसला आया है जिसका परिणाम 24 जनवरी को आने की उम्मीद है। इसके बाद जो भी फैसला आएगा, वह बीसीसीआई के पास जाएगा। लेकिन 27 व 28 जनवरी को आईपीएल 11 के आॅक्शन हैं और 26 जनवरी तक राजस्थान रॉयल्स को हर हाल में अपने वेन्यू के बारे में फैसला लेना होगा।

दूसरी ओर, बीसीसीआई ने 11 दिसम्बर को आयोजित ईजीएम में आरसीए का सस्पेंशन खत्म करने का निर्णय लिया था लेकिन इसके लिए 6 शर्तें भी लगा दी थीं। बीसीसीआई और आरसीए के हितों के बीच हो रहे टकराव के लिए आईपीएल-11 और घरेलू खिलाड़ियों पर इसका असर पड़ना तो वाजिब है। इसके चलते यही माना जा रहा है कि दो साल बाद आईपीएल में वापिस लौट रही शिल्पा शेट्टी व राज कुद्रा की राजस्थान रॉयल्स की यह टीम अपने घरेलू मैदान में नहीं खेल पाएगी।

आपको बता दें कि राजस्थान रॉयल्स के लिए जयपुर शुरूआत से ही घरेलू मैदान रहा है। इसके बाद बीसीसीआई ने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन को निलंबित कर दिया था। राज्य बोडी द्वारा ललित मोदी को अध्यक्ष चुने जाने के बाद बोर्ड ने यह कदम उठाया था। इसके बाद रॉयल्स के मैचों को अहमदाबाद स्थानांतरित कर दिया गया था। 2015 तक उन्होंने अपने घरेलू मुकाबले गुजरात के इस शहर में खेले थे। 2014 के बाद से इस मैदान पर आईपीएल का कोई मैच नहीं हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here