relief to farmers

कांग्रेस के घोषणा पत्र में शामिल प्रदेश के किसानों का कर्जा 10 दिन में माफ करने की बात पर चुटकी लेते हुए मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि राहुल गांधी कह रहे हैं कि उनकी सरकार आई तो 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ कर देंगे। मैं उनसे पूछना चाहती हूं कि 70 साल तक क्या कर रहे थे।’ उन्होंने कहा कि हमने किसानों का कर्जा माफ किया तब जाकर कांग्रेस की नींद खुली। और अब कह रहे हैं कर्जा माफ करेंगें। वे ऐसा इसलिए बोल रहे है क्योंकि उनकी सरकार आने वाली नहीं है। इसलिए झूठे वादे करने में क्या जाता है।  relief to farmers

मुख्यमंत्री वसुनघरा राजे ने अति आत्मविश्वास के साथ कहा कि सरकार भाजपा की ही बनेगी और हम किसान के हित में बडे़ से बड़ा फैसला लेने में जरा भी देर नहीं लगाएंगे। मुख्यमंत्री राजे राजे रविवार को जमवारामगढ़ में भाजपा प्रत्याशी महेन्द्रपाल मीणा, लालसोट में रामविलास मीणा, कठूमर में बाबूलाल मैनेजर, बहरोड़ में मोहित यादव, खण्डेला में बंशीधर बाजिया तथा चौमूं में रामलाल शर्मा के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित कर रही थीं।  relief to farmers

कांग्रेस का घोषणा पत्र मात्र ‘राहुल मॉडल’, तभी कोई विजन नहीं: राजे

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि अशोक गहलोत कह रहे हैं कि उनका घोषणा पत्र राहुल मॉडल है। वे सही कह रहे हैं क्योंकि ऐसा घोषणा पत्र तो राहुल मॉडल ही हो सकता है, जिसमें कहीं कोई विजन नहीं है। यहां उन्होंने कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र पर तर्क देते हुए कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में ज्यादातर ऐसे वादे किए हैं जो हमारी सरकार इन पांच सालों में पहले ही पूरे कर चुकी है। बालिकाओं को मुफ्त शिक्षा देने का कांग्रेस ने वादा हमारी सरकार पहले ही स्कूलों में बालिकाओं को मुफ्त शिक्षा देकर पूरी कर चुकी है।  relief to farmers

अपने घोषणा पत्र में राइट टू हैल्थ लागू करने, किसानों को पेंशन देने, बेरोजगारों को आसान दरों पर ऋण देने तथा गोचर भूमि बोर्ड बनाने का झांसा देने वाले कांग्रेस के नेता यह भी भूल गए कि हमारी भामाशाह योजना से लोगों को पहले से ही फ्री इलाज मिल रहा है। वृद्धावस्था पेंशन योजना में बुजुर्गों को पेंशन मिल रही है, जिनमें किसान भी शामिल हैं। मुद्रा योजना में 50 लाख युवाओं को 10 लाख तक के लोन दिए जा चुके हैं।

‘मैं महारानी नहीं, प्रदेश के लोगों की सेवादारनी’  relief to farmers

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि कांग्रेस के नेता मुझे महारानी कहते हैं। मैं महारानी नहीं मैं तो प्रदेश के लोगां की सेवादारनी हूं।  कांग्रेस कह रही है कि मैं जनता के बीच नहीं रही। मेरा चैलेंज है सबसे ज्यादा जनता के बीच मैं ही रही, कोई दूसरा सीएम रहा हो तो बताएं।

मैंने सरकार आपके द्वार, आपका जिला आपकी सरकार, मुख्यमंत्री जनसंवाद और राजस्थान गौरव यात्रा के माध्यम से हर व्यक्ति की तकलीफ दूर करने का प्रयास किया। इसके बावजूद मुद्दाविहीन कांग्रेस के नेता बौखलाहट में ये आरोप लगा रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here