Gujjar Reservation

राजस्थान में गुर्जरों की आरक्षण की मांग एक बार फिर से जोरों पर हैं। इस बार गुर्जर ओबीसी का वर्गीकरण कर 50 प्रतिशत के भीतर आरक्षण चाहते हैं। 15 मई को बयाना के गांव अड्डा में  गुर्जरों की महापंचायत होने जा रही है। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने गुर्जरों से वार्ता की पहल की है। Gujjar Reservation

शनिवार को भरतपुर कलक्टर व पुलिस अधीक्षक ने सरकार की तरफ से वार्ता का न्यौता लेकर कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला से मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद कर्नल बैंसला ने कहा था कि वो सरकार से वार्ता के लिए तैयार हैं।

भरतपुर जिला कलक्टर संदेश नायक ने बताया कि उन्होंने बयाना के बंध बरेठा स्थित गेस्ट हाउस में गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला से मुलाकात कर उन्हें सरकार की ओर से वार्ता का निमंत्रण दिया था। कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला व समिति के अन्य पदाधिकारियों को 14 मई को शाम 5:30 बजे जयपुर स्थित शासन सचिवालय के कमरा नंबर 1 में वार्ता के लिए आमंत्रित किया है। Gujjar Reservation

हालांकि इस वार्ता के लिए नियत समय को बदला गया है, अब गुर्जरों और सरकार के बीच वार्ता सोमवार को शाम 6 बजे से होगी। वार्ता में मंत्रिमंडलीय समिति के सदस्यों के अलावा गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक व अन्य पदाधिकारी शामिल होंगे।

ओबीसी का वर्गीकरण कर 50 फीसदी के भीतर गुर्जरों को 5 फीसदी आरक्षण की मांग Gujjar Reservation

ओबीसी का वर्गीकरण कर 50 फीसदी के भीतर गुर्जरों को 5 फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलित गुर्जरों ने सरकार से वार्ता का प्रस्ताव हाल ही में स्वीकार कर लिया। सोमवार को सुबह 11 से 2 बजे तक कर्नल बैंसला के निवास पर आयोजित हुई गुर्जर संघर्ष समिति के पदाधिकारियों की बैठक में निर्णय लिया गया कि सरकार को बात रखने का मौका देना चाहिए।गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति का 15 सदस्यीय दल सरकार से वार्ता के लिए जयपुर रवाना हो चुका है। सोमवार को शाम 6 बजे शासन सचिवालय के कमरा नंबर 1 में वार्ता होगी।

कर्नल बैंसला महापंचायत की वजह से नहीं होंगे वार्ता में शामिल

सोमवार शाम होने जा रही वार्ता में कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला शामिल नहीं होंगे। 15 मई को बयाना के गांव अड्डा में गुर्जर महापंचायत होगी। इस पंचायत में सरकार से हुई गुर्जरों की वार्ता के बारे में समाज को बताया जाएगा। सरकार की बात से सहमत या असहमत होने के बाद ही आगे कदम उठाया जाएगा। कर्नल बैंसला ने सोमवार को कहा कि उन्हें आंदोलन का कोई शौक नहींं है लेकिन आरक्षण पाने के लिए ओर कोई विकल्प भी नहीं है।

Read More: CM Vasundhara Raje Flags off Cancer Out Campaign at Jaipur’s SMS Stadium

पुलिस प्रशासन आंदोलन को लेकर सतर्क, भरतपुर में धारा 114 जारी रहेगी 30 मई तक

भरतपुर जिला कलक्टर संदेश नायक में बताया कि भरतपुर जिले में लागू की गई धारा 144 आगामी 30 मई तक जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से रेलवे की 6 कंपनियां और पुलिस सुरक्षा बलों की कई कंपनियां भी भरतपुर पहुंच रही हैं। गुजरात के नेता हार्दिक पटेल के भी भरतपुर में प्रवेश पर पाबंदी लगाई गई है। गौरतलब है कि गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति ने आगामी 15 मई को बयाना के अड्डा गांव में गुर्जर महापंचायत आयोजित करने का निर्णय लिया है।

इसी महापंचायत में आंदोलन की अंतिम रूपरेखा तय की जानी है। आंदोलन को देखते हुए जिले में पुलिस प्रशासन के अधिकारी सतर्क बने हुए हैं। रेलवे स्टेशन के साथ ट्रैक की सुरक्षा के लिए आरपीएफ के जवान तैनात कर दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here