कांग्रेस के राज में राजस्थान में सड़कों का हाल बहुत बेहाल था खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में। कभी किसी ने गांव की सड़कों की बात नहीं की। ग्रामीण क्षेत्रों में गांवों के अंदर की सड़कों की मरम्मत करने की हमेशा से मांग रही है, विशेषकर महिलाओं की जिन्हें कीचड़ भरे रास्तों से होकर जाना पड़ता था।

इस समस्या के समाधान के लिए वसुंधरा राजे जी ने सत्ता में आते ही ग्रामीण गौरव पथ योजना शुरू की। सभी ग्राम पंचायत मुख्यालय पर 2 किमी लम्बी कंक्रीट सड़कें व नालियां बनाई जा रही हैं। इस योजना के पहले चरण का लाभ 1963 ग्राम पंचायतों को मिला है। इस योजना के दूसरे चरण का लाभ 2000 ग्राम पंचायतों को मिलेगा। राजस्थान में 9894 ग्राम पंचायतें हैं और एक दिन में तो सब जगह सड़कें बन नहीं सकती। कांग्रेस ने तो 60 साल राज किया और यह बहुत लंबा वक़्त है अगर किसी को सड़कें बनानी हो तो लेकिन हमेशा से इन्होंने जाती वाद की राजनीती की है।

भाजपा और कांग्रेस में यही फर्क है की कांग्रेस ने कभी भी विकास की बात नहीं की और भाजपा की सरकार हमेशा से भारत का विकास करते आई है। आपने अटल जी की सरकार भी देखी है और आपने गाँधी परिवार का शासन भी देखा। आपने मनमोहन जी की सरकार भी देखी और आप नरेन्द्र मोदी जी की सरकार देख रहे हैं। आपने गहलोत जी की सरकार भी देखी और वसुंधरा जी का विकास भी देख रहें है।

मैं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे जी को धन्यवाद देना चाहूंगा जिन्होंने मेरे गांव की महिलाओं के लिए ग्रामीण गौरव पथ योजना लाई जिससे पानी से बार बार क्षतिग्रस्त होने वाली सड़कों से निजात मिल रही है और जल्द ही राजस्थान के साथ गांव इस योजना से लाभान्वित होगें।