राजस्थान सरकार द्वारा प्रदेश में कृषि क्षेत्र को एक नया जीवनदान देने के लिए किसानों के आर्थिक हितों औऱ कृषि तकनीकों में सूधार करने के उद्देश्य से राजधानी जयपुर में ग्लोबल राजस्थान एग्रीटेक मीट-2016 (ग्राम-2016) आयोजित करवाया जा रहा है।

प्रदेश की मुख्यमंत्री के किसान हितेषी और प्रदेश की अर्थव्यवस्था में किसानों के महत्व को समझते हुए ग्राम जैसे किसान समारोह का आयोजन करवाया जा रहा है।

ग्राम-2016 किसानों के आथिक हितों औऱ कल्याण के लिए आयोजित किया जा रहा हैं।  इस आयोजन में देश -प्रदेश के हजारों किसान हिस्सा लेकर कृषि विशेषज्ञों, शिक्षाविदो औऱ अर्थशास्त्रियों से कृषि की नवीनतम तकनीक औऱ कृषि सूधारों  पर चर्चा कर खेती की परम्पराओं में परिवर्तन कर आर्थिक लाभ ले सकते है।

राजस्थान सरकार किसानों द्वारा किए जा रहे कृषि औऱ विपणन से संबंधित उद्योग विकास कार्यों को ग्राम में प्रोत्साहित किया जायेगा। इन कार्यों में कोल्ड स्टोरेज एवं वेयरहाउसिंग के साथ आधुनिक आपूर्ति श्रृंखला, कृषि उत्पाद अधिप्राप्ति केंद्र,  कृषि अवशेष अधिप्राप्ति एवं पुनर्चक्रण, पैकेजिंग केंद्र, कृषि अवशेष आधारित पाउडर प्लांट,  फलों एवं सब्जियों के लिए वैक्सिंग प्लांट, पैक हाउसेज एवं कोल्ड चेन,  डेयरी,  चीज प्रसंस्करण सहित डेयरी उत्पाद,  उच्च गुणवत्तायुक्त पशुधन आहार,  पशुधन के लिए बेहतर जेनेरिक ब्रीड्स और  ऊंट एवं बकरी के दूध का प्रसंस्करण जेसे प्राकलन कार्य से किसानों को आर्थिक मुनाफा होगा।

माननीया मुख्यमंत्री श्रीमति वसुंधरा राजे का कहना है कि यह ग्लोबल एग्रीटेक मीट सिर्फ किसानों के लिए एक उद्योग उपक्रम नही है। इस समारोह से राजस्थान के किसानों को कृषि से संबंधित व्यवस्था को एक नई दिशा प्रदान करने की कोशिश की जाएंगी।

राजस्थान का किसान उन्नत हो यही इस  एग्रोटेक मीट का मुख्य उद्देश्य है। राजस्थान सरकार ग्राम के जरिए किसानों के उन्नत और खुशहाल भविष्य के दशा और दिशा में उचित कदम उठायेंगी।

ग्राम में विशेषज्ञों द्वारा कृषि, बागवानी, कृषि आगत, प्लास्टीकल्चर, सिंचाई, जैविक कृषि, कृषि यंत्रिकरण, संरक्षित कृषि, पशुपालन, ऊन, डेयरी, कृषि प्रसंस्करण, कृषि निर्यात क्षेत्र, फसल कटाई पश्चात प्रबंधन जैसे कार्यों के बारें में विस्तृत रूप से चर्चा की जाएगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here