Global Center of excellence

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि राज्य सरकार के प्रयासों से प्रदेश में सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी का उपयोग बढ़ा है जिससे सुविधाओं एवं सेवाओं तक आमजन की पहुंच आसान हुई है। राजे मुख्यमंत्री निवास पर स्मार्ट प्लस कनेक्टेड कम्युनिटीज सिस्को के ग्लोबल प्रेसीडेंट डॉ. अनिल मेनन से मुलाकात के दौरान जेडीए, सिस्को तथा जेनपेक्ट के ग्लोबल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस से सर्टिफाइड इनोवेटर्स को सम्बोधित कर रही थीं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जेडीए, सिस्को और जेनपेक्ट की संयुक्त पहल ग्लोबल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की सहायता से शुरू किए गए सफल स्टार्टअप शुरू करने वाले उद्यमियों को सर्टिफिकेट दिए।

उन्होंने कहा कि डिजिफेस्ट और हैकाथॉन जैसे आयोजनों से प्रदेश के युवा उद्यमियों को प्रोत्साहन मिला है और इन्हीं के सहयोग से प्रदेश डिजिटल राजस्थान बनेगा। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया किया कि देश में राजस्थान डिजिटल लीडर के रूप में उभरा है और इस स्थान को बनाए रखने के लिए वे अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। Global Center of excellence

Read More: 2018 का पहला महा-घमासान: अजमेर, अलवर और मांडलगढ़

उन्होंने इंटेलिजेंट ट्रांजिट मैनेजमेंट सिस्टम के लिए उर्मिल बखाई, स्मार्ट एनर्जी मीटर के लिए जितेन्द्र अग्रवाल एवं राहुल शर्मा, वाईफाई मोनिटाइजेशन के लिए गौरव शाह, पार्किंग एप के लिए मोहम्मद जफर, स्मार्ट पार्किंग के लिए शम्पा गांगुली तथा सेफ्टी हूटर के लिए शोएब समीर को सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया। उन्होंने जेडीए जयपुर की वेबसाइट पर ग्लोबल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस कैम्पेन भी लॉन्च किया। Global Center of excellence

इस अवसर पर प्रमुख सचिव सूचना प्रौद्योगिकी अखिल अरोरा, प्रमुख सचिव जल संसाधन शिखर अग्रवाल, शासन सचिव कौशल, जेडीए आयुक्त वैभव गालरिया, उद्यमिता टी. रविकांत, जयपुर नगर निगम आयुक्त रवि जैन तथा कौशल विकास आयुक्त कृष्ण कुणाल सहित कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। Global Center of excellence

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here