vasundhara-raje

राजस्थान सरकार प्रदेश के किसान भाईयों को राहत देने जा रही है। एक बार फिर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने किसानों का दर्द समझते हुए प्याज की सरकारी खरीद करने जा रही है। इससे पहले भी राजस्थान के किसानों को फसलों का बाजार भाव नही मिलने की वजह से प्रदेश सरकार ने किनोवा और लहसुन की खरीद की थी। राजस्थान में किनोवा, लहसुन और प्याज की बंपर पैदावार हुई है जिससे किसानों को बाजार में फसलों का उचित भाव नही मिल पा रहा है। प्रदेश के किसानों को राहत देने के लिए सरकार ने प्याज को खरीदने का फैसला किया है। सरकार नागौर, जोधपुर और सीकर के किसानों से समर्थन मूल्य पर ही प्याज खरीदने का मन बना रही है।

onion

किसानों की मेहनत नही जाने दी जाएगी बेकार

प्रदेश के कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने प्याज खरीद की जानकारी देते हुए बताया कि राजस्थान के किसानों को किसी तरह की अफवाहों और आडंबरों में आने की आवश्यकता नही है। किसान का दर्द समझने वाली मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने फैसला किया है कि किसानों की मेहनत को जाया नही जाने दिया जाएगा। इसलिए राज्य सरकार प्याज की खरीद करें। कृषि मंत्री सैनी ने बताया कि सरकार अब 4 रुपए प्रति किलों की दर से किसानों से प्याज खरीदेगी।

सरकार खरीदेगी 20 हजार टन प्याज

उन्होने बताया कि किसानों को दूसरे प्रदेशों की मंडियों में जाने की आवश्यकता नही पड़ेगी। उन्होने कहा कि इस साल प्रदेश के तीन जिलों नागौर, सीकर और जोधपुर में प्याज की बंपर पैदावार हुई है जिसे देखते हुए राज्य सरकार इन तीन जिलों के किसानों से करीब 20 हजार टन प्याज की खरीद करेगी। उन्होने कहा कि प्याज खरीद के लिए कृषि विभाग ने राजफैड को निर्देश दे दिए है।

लहसुन और किनोवा भी खरीद चुकी है सरकार

इससे पहले भी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने प्रदेश के लहसुन औऱ किनोवा के किसानों की मेहनत को बेकार नही जाने दिया। प्रदेश के लहसुन और किनोवा किसानों का दर्द समझते हुए राजे ने कृषि विभाग को किसानों के लहसुन और किनोवा खरीदने के निर्देश दिए थे। आपकों बता दें कि प्रदेश के किसानों ने आधुनिक खेती की मिसाल पेश की है जिससे प्रदेश में किनोवा लहसुन और प्याज की बंपर पैदावार हुई है। राज्य सरकार ने विभिन्न माध्यमों से प्रदेश के किसानो को लाभ पहुंचा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here