राजस्थान : डॉ. मनमोहन सिंह ने ली छठवीं बार राज्यसभा सदस्यता की शपथ, सदन के चौथे सर्वाधिक आयु के सदस्य

0
31

जयपुर। पूर्व प्रधानमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता डॉक्टर मनमोहन सिंह ने शुक्रवार को राज्यसभा के सदस्य के तौर पर शपथ ली। राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने 86 वर्षीय सिंह को अपने कक्ष में शपथ दिलाई। इस शपथग्रहण के दौरान अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कई कांग्रेस दिग्गज मौजूद थे। वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद भी शपथग्रहण कार्यक्रम में मौजूद रहे। इस बार वे राजस्थान से निर्वाचित होकर आए हैं। डॉ. मनमोहन सिंह राजस्थान से राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुने गए हैं।

अशोक गहलोत और सचिन पायलट ने दी शुभकामनाएं
मनमोहन सिंह को छठवीं बार राज्यसभा पहुंचे हैं। इस खास मौके पर उन्हें कई मंत्रियों ने शुभकामनाएं दी हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने उन्हें राजस्थान से संसद सदस्य चुने जाने और शपथ लेने पर शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने लिखा कि वह उम्मीद करते हैं कि उनके अनुभव और जानकारी से राजस्थान की जनता को फायदा होगा।

13 अगस्त को भरा था नामांकन
इससे पहले 13 अगस्त को मनमोहन सिंह ने राज्यसभा सदस्य के लिए नामांकन भरा था। नामांकन के वक्त सीएम अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट और अविनाश पांडे मौजूद थे। राजस्थान में भाजपा के यूनिट प्रमुख मदनलाल सैनी के निधन के बाद खाली हुई सीट से कांग्रेस मनमोहन सिंह को राज्यसभा पहुंचे हैं।

असम से पांच बार राज्यसभा सांसद रहे
डॉ. मनमोहन सिंह का राज्यसभा में कार्यकाल 14 जून को खत्म हो गया था। वह असम से लगातार पांच बार राज्यसभा सांसद रहे हैं। डॉ. सिंह 2004 से 2014 तक प्रधानमंत्री रहे। उन्होंने 10 साल तक राज्यसभा में अगुआई की जबकि 6 साल विपक्ष के नेता भी रहे। वे आखिरी बार 2013 में राज्यसभा सदस्य चुने गए थे। ऐसा पहली बार है जब वे राजस्थान की तरफ से राज्यसभा पहुंचे हैं।

सदन के चौथे सर्वाधिक आयु के सदस्य
पूर्व प्रधानमंत्री सिंह सदन के चौथे सर्वाधिक आयु के सदस्य हैं। सदन में 96 वर्षीय राम जेठमनाली, 91 वर्षीय मोतीलाल वोरा और 88 वर्षीय सी. पी. ठाकुर उनसे अधिक आयु के सदस्य हैं। अधिकारी ने बताया कि राज्यसभा में 79 वर्षीय महेंद्र प्रसाद का सातवां कार्यकाल, जेठमलानी का छठवां कार्यकाल और वोरा का चौथा कार्यकाल है।

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here