amarnath-yatra

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सावन के पहले सोमवार को आतंकियों ने जमकर कोहराम मचाया। आतंकियों ने अनंतनाग के बटिंगू एरिया में पहले पुलिस जीप पर हमला किया फिर अमरनाथ यात्रा कर वापस पहलगाम की ओर आ रहे यात्रियों की बस पर ताबड़तोड़ फायरिंग की। इस दौरान सात अमरनाथ यात्रियों की मौत हो गई और 15 से अधिक यात्रियों के घायल होने की खबर मिली है। इस आतंकी हमले में मारे गए लोगों में 5 महिलाएं शामिल है। मरने वाले सभी यात्री गुजरात के वलसाड़ के रहने वाले थे। आपकों बतादें कि यात्रियों से भरी यह बस बालटाल से मीर बाजार की तरफ जा रही थी तभी रात करीब 8:20 बजे आतंकियों ने बस पर हमला किया। बस पर हमला करने के लिए तीन आतंकी कड़ी सुरक्षा के बीच बाईक से आए थे और फायरिंग कर बाईक से फरार हो गए थे। घायल श्रद्धालुओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया है साथ ही सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है। हालांकि आतंकी हमले के बाद सरकार ने यात्रा को जारी रखने का फैसला किया है।

गुजरात की थी बस, हादसे के बाद इंटरनेट सेवा बंद

आतंकी हमले की चपेट में आई बस गुजरात की है और इस बस का अमरनाथ श्राइन बोर्ड में रजिस्ट्रेशन भी नही था। हमले के बाद जम्मू-कश्मीर में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। हादसे के बाद एनएसए अजीत डोभाल ने प्रधानमंत्री कार्यालय पहुंचकर उच्च स्तरीय बैठक बुलाई। आपको बतादें कि सुरक्षा एजेंसियों ने अमरनाथ यात्रा के आतंकी निशाने पर होने की बात कबही थी और अलर्ट भी जारी किया था। इस यात्रा के दौरान सेना, सीआरपीएफ, बीएसएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के करीब 40 हजार जवानों को तैनात किया गया है।

पंक्चर होने के कारण सुरक्षा दस्ते के अलग हो गई थी बस

आतंकी हमले के बाद जम्मू-कश्मीर की सूचना मंत्री प्रिया सेठी ने बताया कि आतंकी हमले की शिकार हुई बस गुजरात के वलसाड़ जिले की थी जिससे सभी यात्री गुजरात के थे। सभी यात्री बाबा अमरनाथ के दर्शन कर लौट रहे थे, रास्ते में बस पंक्चर होने के कारण सुरक्षा दस्ते से अलग हो गई। इसकी जानकारी सुरक्षा दस्ते को भी नही थी। आपको बतादें कि रात में  श्रद्धालुओं की बसों को नही चलने दिया जाता, सभी बसों को शाम 7 बजे से पहले बेस कैंप में पहुंचना होता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने घटना की निंदा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमरनाथ यात्रा के दौरान हुए आतंकी हादसे की कड़ी निंदा की है। उन्होने कहा कि सरकार ने ऐसे हमलों के कारण यात्रा को नही रोकने का फैसला लिया। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले से बहेद पीड़ा हुई है इसे शब्दों में बयां नही किया जा सकता। उन्होने कहा की ऐसे आतंकी हमले की हर किसी को निंदा करनी चाहिए। एक अन्य ट्वीट में पीएम मोदी ने कहा कि भारत इस तरह के कायराना हमलों से झुकतने वाला नही है। मैने जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री और राज्यपाल से बात की है और उन्हे हर संभव मदद देने का भरोसा दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here