कोरोना वायरस का संदिग्ध जयपुर के SMS में भर्ती: देशभर में हाई अलर्ट, ये है वायरल के लक्षण और बचाव के उपाय

    0
    154

    जयपुर। कोरोनावायरस से चीन में अब तक 107 लोगों की मौत हो चुकी है। चीन में फंसे भारतीयों को वापस लाने के लिए सरकार ने कोशिशें तेज कर दी हैं। एहतियाती कदम उठाए जाने के बावजूद कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। राजस्थान में चीन से लौटे 18 यात्रियों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की आशंका के बीच एक संदिग्ध के राजधानी जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को सरकार ने सभी संदिग्धों को निगरानी में रखने के आदेश के बाद मंगलवार को अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने पूरे मामले की समीक्षा की। उन्होंने चीन से लौटे संदिग्ध यात्रियों के साथ एसएमएस अस्पताल में भर्ती व्यक्ति और कोरोना वायरस को लेकर चिकित्सा अधिकारियों से तमाम जानकारी ली।

    सभी संदिग्धों की 28 दिन तक होगी स्क्रीनिंग
    रोहित कुमार सिंह ने समीक्षा के बाद कोरोना वायरस से बचाव, नियंत्रण और जांच-उपचार समेत आमजन को जागरूक करने के निर्देश दिए। एसीएस सिंह ने एयरपोर्ट पर थर्मल स्कैनर के इस्तेमाल के भी निर्देश दिए हैं। चिकित्सा विभाग के अनुसार चीन से लौटे यात्रियों की निर्धारित 28 दिनों तक निरन्तर स्क्रीनिंग होगी। साथ ही एसीएस के निर्देशानुसार कोरोना वायरस से बचाव, नियंत्रण, जांच एवं उपचार सहित आमजन को जागरूक करने के लिए विशेष अभियान चलाने पर विचार किया जा रहा है।


    विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एहतियात बरतने की कही बात
    विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी किए गए एहतियात को यूएन द्वारा ट्विटर पर शेयर किया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने और एशिया के सभी लोगों से एहतियात बरतने को कहा है।

    क्या हैं कोरोना वायरस के लक्षण
    कोरोना वायरस के लक्षण स्वाइन फ्लू जैसे हैं। इसके संक्रमण के फलस्वरूप नाक बहना, बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, सिर में तेज दर्द, निमोनिया, ब्रॉन्काइटिस और गले में खराश जैसी समस्याएं उत्पन्न होती हैं।

    कहां से फैलना शुरू हुआ वायरस
    यह वायरस सबसे पहले चीन के वुहान शहर से फैलना शुरू हुआ। इसके बाद इससे पीड़ित मरीज थाईलैंड, सिंगापुर, जापान में भी मिल रहे हैं। हाल ही में इंग्लैंड में भी एक परिवार के इस वायरस की चपेट में आने की जानकारी सामने आई है।

    बरतें जरूरी सावधानियां:—
    — अपने हाथ साबुन-पानी या अल्कोहल युक्त हैंड रब से साफ करें।
    — खांसते या छींकते हुए अपनी नाक और मुंह को टिश्यू या मुड़ी हुई कोहनी से ढकें।
    — जिन्हें सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण हों उनके साथ करीबी संपर्क बनाने से बचें।
    — मीट व अंडों को खाने से पहले अच्छे से पकाएं।
    — जंगली और खेतों में रहने वाले जानवरों के साथ असुरक्षित संपर्क न बनाएं।
    — भीड़भाड़ वाली जगह पर न जाएं, खास तौर पर चीन से सफर कर लौटे व्यक्ति से दूर रहें।
    — सब्जी और फलों को खाने से पहले अच्छी तरह धोएं।
    — जिन देशों या जगहों पर इस बीमारी का प्रकोप फैला है, वहां यात्रा करने से बचें।
    — सार्वजनिक स्थानों, सार्वजनिक यातायात के साधनों में कुछ भी छूने या किसी से हाथ मिलाने से बचें।

    RESPONSES

    Please enter your comment!
    Please enter your name here