Congress on Bhamashah Yojana

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ‘राजस्थान गौरव यात्रा’ के तहत प्रदेशभर का दौरा कर रही है। अपनी रथ यात्रा के पांचवें दिन वे बांसवाड़ा और प्रतापगढ़ में पहुंची। सीएम राजे ने सैनावासा, घाटोल, धरियावद एवं प्रतापगढ़ में आयोजित स्वागत समारोह तथा जनसभा में कहा कि कांग्रेस के नेता कहते हैं कि वे सरकार में आए तो भामाशाह कार्ड के टुकड़े-टुकड़े कर देंगे। कोई कहता है इस कार्ड को फाड़ देंगे। कोई कहता है भामाशाह योजना बंद कर देंगे। नारी शक्ति को समर्पित वे उस भामाशाह योजना को बंद करना चाहते हैं जिसने दुनिया में पहली बार महिला को परिवार को मुखिया बनाया है। Congress on Bhamashah Yojana

मुख्यमंत्री राजे ने सवाल करते हुए कहा, क्या आप चाहते हैं भामाशाह योजना बंद हो? यदि नहीं तो ऐसे लोगों को सत्ता पर काबिज मत होने दो जो महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने वाली योजनाओं को बंद करने की बात करे। उन्होंने कहा कि जिस योजना ने सरकारी योजनाओं का शत-प्रतिशत पैसा लोगों के खातों में पहुंचाया और भ्रष्टाचार खत्म किया ऐसी योजना को कांग्रेस के नेता बंद करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वे उस भामाशाह स्वास्थ्य योजना को बंद करना चाहते हैं जिसने लाखों गरीबों की जिंदगी बचाई। Congress on Bhamashah Yojana

मुख्यमंत्री ने महिलाओं से पूछे ये सवाल, सभी ने एक स्वर में दिया उत्तर

मुख्यमंत्री राजे ने अपनी रथ यात्रा के दौरान विभिन्न स्थानों पर आयोजित जनसभा में महिलाओं से पूछा कि ”क्या महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने वाली भामाशाह योजना बंद करने वालों को जिताओगे? इस सवाल पर सभा में उपस्थित सब लोगों ने एक स्वर में कहा नहीं।” मुख्यमंत्री ने दूसरा सवाल किया ”क्या गरीबों का 30 हजार से 3 लाख तक मुफ्त इलाज कराने वाली भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना को बंद कराने वाली कांग्रेस को लाओगे? Congress on Bhamashah Yojana

Read More: How much money is being offered to Rahul Gandhi for providing 50% space to women in Congress?

इस पर जवाब देते हुए सबने हाथ हिलाकर कहा नहीं। यानि जनता ऐसी सरकार नहीं चुनना पसंद नहीं करेगी जो गरीबों का हित नहीं सोचती है। इस दौरान मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि कांग्रेस का यह सपना साकार नहीं होगा। उन्होंने कहा कि आप लोगों को कांग्रेस के इस सपने को पूरा नहीं होने देना है। Congress on Bhamashah Yojana

जनजाति क्षेत्र में बीपीएल परिवारों को 50 यूनिट बिजली प्रतिमाह नि:शुल्क Bhamashah Yojana

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि जनजाति क्षेत्र में बीपीएल परिवारों को 50 यूनिट प्रतिमाह बिजली मुफ्त दी जाएगी। इसके आदेश भी जारी हो गए हैं। उन्होंने कहा कि एक ओर हम है जिसने जो कहा वो किया। दूसरी तरफ कांग्रेस है जिसने सिर्फ कहा और किया कुछ नहीं। इसलिए अब वक्त आ गया है ऐसे लोगों को सबक सिखाने का और उन लोगों को साथ, प्यार और आशीर्वाद देने का जिन्होंने आपकी उन्नति के लिए सोचा।

राजे ने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए कहा कि यह ऐसी पार्टी है जिसने 50 साल झूठ के सहारे शासन किया। जनजाति समुदाय के कल्याण के लिए वादे तो किए लेकिन कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि 9 अगस्त को उनकी सरकार राजस्थान में पहली बार विश्व जनजाति कल्याण दिवस मनाएगी। जिसका उद्देश्य जनजाति समुदाय को मुख्यधारा में लाना होगा। इसके लिए उनकी सरकार ने टीएसपी एरिया में एक दिन का सरकारी अवकाश भी रखा है।

तेज बारिश में भी मुख्यमंत्री को सुनने उमड़ी भारी भीड़

मुख्यमंत्री की धरियावद और प्रतापगढ़ सभा के दौरान तेज बारिश हुई। लेकिन लोग उन्हें देखने और सुनने के लिए वहां डटे रहे। इसके अलावा जब वे धरियावद से प्रतापगढ़ आ रही थीं तब भी सड़क पर लोग भीगते हुए उनका इंतजार करते दिखे। जेलदा गांव में तो तेज बारिश में भीगते हुए लोगों को देख मुख्यमंत्री राजे ने अपना काफिला रोका और भरी बारिश के बीच रथ की छत से लोगों को संबोधित किया। सीएम की जनसभाओं के दौरान राज्य सरकार के कई मंत्री, सांसद, विधायक और स्थानीय जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

समारोह के बाद मुख्यमंत्री राजे ने विभिन्न योजनाओं के 21 लाभार्थियों को योजनाओं के स्वीकृति आदेश प्रदान किए। मुख्यमंत्री ने तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करूणानिधि एवं विधायक जीतमल खांट के पुत्र के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि भी दी। इस कारण उन्होंने आमजनता से फूल और मालाएं स्वीकार नहीं किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here