Beti Bachao, Beti Padhao
Beti Bachao, Beti Padhao

राजस्थान के झुंझुनूं जिले की बेटी को बॉलीवुड अभिनेता अनिल कपूर की फिल्म नायक की तरह एक दिन का कलेक्टर बनाया गया है। जिला कलेक्टर दिनेश कुमार यादव खुद उसे यह जिम्मेदारी सौंपी और स्वयं पूरे दिन उसके सामने वाली कुर्सी पर बैठे दिखे। झुंझुनूं की इस बेटी का नाम है वंदना जांगिड़। दरअसल वंदना ने 12वीं कला वर्ग में जिले में सर्वाधिक अंक प्राप्त किए हैं। वंदना की इच्छा है कि वह सिविल सेवा में जाए। Beti Bachao, Beti Padhao

उसकी इसी इच्छा के चलते वंदना को जिला कलेक्टर ऑफिस में सम्मानित करने के साथ ही साथ एक दिन के लिए कलेक्टर की कुर्सी संभलवाई यानि उसे एक दिन का झुंझुनूं जिले का कलक्टर बनाया गया। Beti Bachao, Beti Padhao

Read More: मुख्यमंत्री का गंगापुर सिटी में जनसंवाद, ईस्टर्न कैनाल प्रोजेक्ट से बदलेगी राजस्थान के 13 जिलों की तस्वीर

वंदना जिले के बीलवा (खेतड़ी) गांव में अपने परिवार के साथ रहती है और राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय की कला वर्ग की छात्रा है। वंदना ने 12वीं कला वर्ग में 92.60 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं। कुर्सी पर बिठाने से पहले कलेक्टर ने वंदना से कई सवाल किए और वंदना की ओर से किए गए सवालों के जवाब भी दिए। Beti Bachao, Beti Padhao

इस बारे में जिला कलेक्टर दिनेश कुमार यादव ने बताया कि ऐसा करने से बच्ची का हौंसला बढ़ेगा। इसका मकसद यही है कि इससे अन्य बच्चों को भी प्रेरणा मिले। यह सरकार की बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान को आगे बढ़ाने के प्रयास में किया गया है। ऐसा कर प्रदेश की बेटियों के होसलों को पंख लगाने का प्रयास किया गया है। Beti Bachao, Beti Padhao

इस बारे में वंदना से जब बात की गई तो उसने कहा कि वंदना जांगिड़ का कहना है कि जिला प्रशासन की सबसे बड़ी कुर्सी पर बैठक गौरव महसूस कर रही है। उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि वह कभी कलेक्टर की कुर्सी पर बैठेगी और कलेक्टर उसके सामने बैठेंगे। वंदना एक प्रशासनिक अधिकारी बनना चाहती है। Beti Bachao, Beti Padhao

उसके कहा कि भविष्य में मैं भी कलेक्टर बन समाज की सेवा करूंगी। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग विभाग के सहायक निदेशक विप्लव न्यौला सहित शिक्षा विभाग के अधिकारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here