Atal Bihari Vajpayee
Atal Bihari Vajpayee

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के स्वास्थ्य में सुधार होता दिखाई नहीं दे रहा है। डॉक्टर्स लगातार ​उनकी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। देश के 10वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण करने वाले वाजपेयी बीजेपी के साथ विपक्ष के भी पसंदीदा नेता रहे हैं। फिलहाल तबीयत ज्यादा बिगड़ने के कारण उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है Atal Bihari Vajpayee

लेकिन देशभर में उनके स्वस्थ्य होने की कामना में पूजा—पाठ, हवन एवं दुआओं का दौर शुरू हो गया है। जगह—जगह  आदि पद्म विभूषण व भारत रत्न सम्मानधारी वाजपेयी की एम्स के ताजा मेडिकल बुलेटिन में बताया गया है कि उनकी हालत में सुधार नहीं है। Atal Bihari Vajpayee

उनके गंभीर स्वास्थ्य की जानकारी मिलते ही आज सुबह से नेताओं का दिल्ली एम्स पहुंचना बदस्तूर जारी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री के बारे में चिकित्सकों से बात की है। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने भी उनके स्वास्थ्य के बारे में सुनकर अपनी राजस्थान गौरव यात्रा का दूसरा चरण रद्द कर दिया है और दिल्ली के लिए रवाना हो गई हैं। Atal Bihari Vajpayee

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रेल मंत्री पीयूष गोयल, लाल कृष्ण आड़वाणी, बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर व मीनाक्षी लेखी सहित अन्य नेताओं ने एम्स पहुंचकर उनके हालचाल जाने हैं। दूसरी ओर, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व राजस्थान कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने भी अटलजी के जल्दी स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।

गौरतलब है कि अटल बिहारी वाजपेयी वाजपेयी पिछले 2 महीने से दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती हैं। 11 जून को उन्हें किडनी, नली में संक्रमण, सीने में जकड़न और पेशाब की नली में संक्रमण होने के चलते एम्स में भर्ती कराया गया था। एम्स की ओर से बुधवार को जारी किए हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, ‘पिछले 24 घंटों में उनकी स्थित ज्यादा बिगड़ गई है और हालत नाजुक है। स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं हो रहा है। उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया है।’ Atal Bihari Vajpayee

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here