Difference in Congress and BJP

धौलपुर कांग्रेस जिलाध्यक्ष रहे अशोक शर्मा ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस की कथनी एवं करनी में अंतर है तथा धौलपुर सहित सम्पूर्ण राजस्थान का विकास भाजपा सरकार के नेतृत्व में ही हुआ है। यह कांग्रेस की विकास विरोधी नीतियों का ही परिणाम है कि जनता के साथ-साथ उनके नेताओं का भी कांग्रेस से मोहभंग हो रहा है। अशोक शर्मा धौलपुर विधानसभा सीट से तीन बार कांग्रेस विधायक रहे पूर्व मंत्री बनवारी लाल शर्मा के पुत्र हैं। Difference in Congress and BJP 

उन्होंने गुरुवार को कांग्रेस का हाथ छोड़ बीजेपी का दामन थामा है। शर्मा गुरुवार को भाजपा मुख्यालय पहुंच सांसद दुष्यंत सिंह, मुख्यमंत्री राजे, मंत्री गुलाबचंद कटारिया, राजेंद्र राठौड़ एवं केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल के सामने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की। इस मौके पर वसुन्धरा राजे ने संगठन के सभी जनप्रतिनिधियों व कार्यकर्ताओं की तरफ से अशोक शर्मा का भाजपा परिवार में हार्दिक स्वागत किया। Difference in Congress and BJP 

Read More: न रोड शो में कोई पहुंचा न सभा में भीड़,​ फिर कैसे प्रदेश जीतने का दम भर रही कांग्रेस

भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद अशोक शर्मा ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उनके पिता बनवारी लाल शर्मा कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे और पांच बार विधायक रहे, लेकिन एआईसीसी के कभी के सदस्य नहीं बने। उन्होंने कहा कि 28 साल कांग्रेस में काम किया है, लेकिन अब सामान्य कार्यकर्ता बनकर भाजपा के लिए काम करूंगा। Difference in Congress and BJP 

शर्मा ने खुद भी कांग्रेस के टिकट पर वर्ष 2008 का विधानसभा चुनाव लड़ा था लेकिन भाजपा प्रत्याशी से डेढ़ हजार वोटों के अंतर से हार गए थे। इस समय प्रदेश की सियासत विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उबाल पर है। ऐसे में कद्दावर नेता बनवारी लाल शर्मा के पुत्र अशोक शर्मा का चुनावों से ऐन वक्त पहले भाजपा में शामिल होना कांग्रेस के लिए किसी झटके से कम नहीं है। अशोक शर्मा अपने गृह नगर में अच्छी पैठ रखते हैं। Difference in Congress and BJP 

इससे पहले मुख्यमंत्री निवास पर बड़ी संख्या में पधारे जनप्रतिनिधियों व कार्यकर्ताओं के साथ मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर चर्चा की और उनका जोश व मनोबल बढ़ाया। उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं का आपसी प्रेम व समर्पण भाव ही भाजपा की असली ताकत हैं और यही हमें दूसरी पार्टियों से अलग करता है।

आगे उन्होंने कहा कि टिकट के दावेदारों के साथ आए कार्यकर्ताओं में अनुशासन, निष्ठा और जोश देखकर पूर्णतः विश्वस्त हूं कि आगामी चुनावों में हमारे कार्यकर्ता राजस्थान में ‘कमल’ की एक बार पुनः ऐतिहासिक जीत सुनिश्चित करेंगे तथा राजस्थान के सुनहरे भविष्य की गति को निरंतर बनाए रखेंगे। Difference in Congress and BJP 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here