Ashok Gehlot Ad Scams

राजस्थान को कांग्रेस मुक्त बना चुके पूर्वमुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अब अपना रुख गुजरात की ओर किया है। अब गुजरात कांग्रेस प्रभारी अशोक गहलोत के कंधो पर गुजरात में कांग्रेस को हराने की बड़ी जिम्मेदारी एआईसीसी द्वारा दी गई है। अशोक गहलोत जब राजस्थान के मुख्यमंत्री थे तभी वे राजस्थान में कांग्रेस को जीता नही पाए ऐसे में अब गुजरात में क्या हासिल करने गये है। आज राजस्थान में कांग्रेस आपसी फूट और आंतरिक कलह से जूझ रही है लेकिन इसकी परवाह अशोक गहलोत को नही है।

हारे हुए नेताओं की टोली पर हैं बड़ी जिम्मेदारी

गुजरात कांग्रेस प्रभारी अशोक गहलोत ने अपने जन्मदिवस पर राजस्थान की राजनीति से सन्यास ले लिया है या युं कहे कि राजस्थान से गहलोत सेवानिवृत हो गये है। अशोक गहलोत ने राजस्थान की जनता के साथ जो धोका किया है वो अब वे गुजरात में करने जा रहे है। एक और जहां राजस्थान की जनता ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर अपना भरोसा जताया हैं वही अशोक गहलोत प्रदेश की जनता का विश्वास पाने में खरा नही उतर सके। अशोक गहलोत अपने पीछे से राजस्थान में कांग्रेस के लिए हारे हुए नेताओं की टोली छोड़कर जा रहे हैं इसी टोली के भरोसे केंद्रीय आलाकमान राजस्थान जीतने के सपने देख रहा है लेकिन राजस्थान की मुख्यमंत्री राजे कांग्रेस के इन ख्याली पूलाव को ज्यादा दिन टिकने नही देगी, इसका एक उदाहरण हमने धौलपुर में हुए विधानसभा चुनाव में भी देख लिया था।

पायलट कि गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए गहलोत

कांग्रेस में जो कुछ चल रहा है हो सकता हो कि वह केंद्रीय नेतृत्व का फरमान हो लेकिन वास्तव में कांग्रेस के नेता अशोक गहलोत के गुजरात जाने की वजह सचिन पायलट को ही बता रहे है। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का कहना है कि अशोक गहलोत को सचिन पायलट ने किक मारी है। क्या वास्तव में पायलट इस कदर स्वार्थी और बदले की राजनीति कर रहे है। अगर देखा जाए तो सचिन पायलट के मुख्यमंत्री बनने की राह में एकमात्र गहलोत ही रोड़ा बन रहे थे जिसको पायलट ने अपने राजस्त से हटा दिया। अब दोनो की फूट सामने आ गई है। buybtc.in    rajpalace.com

गुजरात को कांग्रेस मुक्त बनाने में पूरा सहयोग करेंगे गहलोत

गहलोत को गुजरात का प्रभारी बनाने पर कहा जा रहा हैं कि वो सीएम रहते हुए राजस्थान को तो जीता नहीं पाएं। अब गुजरात में क्या हासिल कर लेंगे? गहलोत के सीएम रहते हुए कांग्रेस ने राजस्थान में 21 सीटें हासिल की थी। गहलोत अब यही कीर्तिमान गुजरात में बनाएंगे, गुजरात भी कांग्रेस मुक्त होगा औऱ अशोक गहलोत इसमें पूरा सहयोग करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here