anand-pal-singh

आनंदपाल मामले में राजस्थान सरकार ने सकारात्मक रवैया अपनाते हुए राजपूत समाज की करीब 7 मांगों पर अपनी सहमति दी है। अब 22 जुलाई को प्रदेश में होने वाला राजपूत समाज का आंदोलन वापस ले लिया गया है। राजपूत समाज और राजस्थान सरकार के प्रतिनिधियों के बीच सचिवालय में हुई वार्ता के बाद राजपूत समाज ने अपना आंदोलन वापस लिया है और राज्य सरकार ने राजपूत समाज की सात मांगों को मान लिया है। सात मांगों में आनंदपाल मामले की सीबीआई से जांच करवाने की मांग को भी मान लिया गया है। गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार सीबीआई को पत्र लिखकर आनंदपाल मामले में जांच की अनुशंसा करेगी लेकिन यह सीबीआई के विवेक पर निर्भर करता है कि सीबीआई मामले को जांच करने लायक समझती है या नही । इसके अलावा आनंदपाल की बड़ी बेटी चीनू उर्फ चरणजीत के खिलाफ दर्ज मामलों को भी वापस ले लिया गया है और उसे गिरफ्तार नही किया जाएगा।

गृहमंत्री कटारिया ने की प्रेस कॉंफ्रेंस, 7 मांगों पर बनी सहमति

राजस्थान सरकार के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने प्रेस कॉंफ्रेंस में जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार और राजपूत समाज के बीच करीब 7 मांगों को लेकर आपसी सहमति बनी है। कटारिया ने बताया कि राज्य सरकार ने सांवराद में 12 जुलाई को हुई हिंसा में मारा गया मालासर का सुरेंद्र सिह के परिवार को नौकरी और मुआवजे की मांग भी मान ली है।



घायल कमांडो सोहन सिंह से मिलेंगे राजपूत समाज के नेता

इसके अलावा राज्य सरकार ने सांवराद में हुई हिंसा में जिन लोगों के खिलाफ पुलिस केस दर्ज किए थे उन पर द्वैषता पूर्वक कार्रवाई नही करने की बात पर भी अपनी सहमति दी है। राज्य सरकार ने आनंदपाल की बेटी चीनू के भारत आने में किसी भी प्रकार की कोई कठिनाई उत्पन्न नही करेगी। राजपूत समाज ने मालासर स्थित श्रवण सिंह के परिजनों पर राज्य सरकार नजरबंदी ना रखने की मांग की थी जिस पर सहमति बनी है। राजपूत समाज के नेताओं ने घटना में घायल कमांडो सोहन सिंह के परिजनों से मिलने की भी सहमति मांगी है इसके अलावा सांवराद में हुई हिंसा में घायल और मृतकों को उचित मुआवजा देने की मांग पर भी सहमति जताई है।

राज्य सरकार का जताया आभार

राजपूत समाज के नेताओं ने कहा कि राज्य सरकार ने इस माहोल में प्रदेश का वातावरण शांतिपूर्ण बनाएं रखा जिसके लिए पूरा राजपूत समाज सरकार का आभार व्यक्त करता है। गृह मंत्री कटारिया ने कहा कि राज्य सरकार ने राजपूत समाज का हमेशा सहयोग किया है और आगे भी राज्य सरकार प्रदेश में शांति का वातावरण बनाएं रखेंगी।

Video Source: MAD EX

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here