modi

देश और प्रदेश के किसान भाईयों को विकास की मुख्यधारा और तरक्की की राह पर कदम से कदम मिलाकर चलाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा युद्ध स्तर पर कोशिशें की जा रही है। सूबे के किसान को आम से खास बनाने के लिए सरकार ने कई नवाचार किए है कई योजनाओं को संचालित किया है तथा कई बड़े कार्यक्रमों को किसानों को जागरूक किया है। यहीं कारण है कि आज राजस्थान का किसान देश भर में अपनी छाप छोड़ रहे है। अब देश भर के किसानों को जागरूक करने एवं सरकारी योजनाओं को लाभ लेने के लिए केंद्र सरकार एक कदम किसानों की ओर फिर बढ़ाने जा रही है। केंद्र सरकार की योजनाओं के बारें में किसनों व अन्य लोगों को जागरूक करने के लिए दिल्ली से किसान जागरूकता पदयात्रा प्रारंभ की गई है।

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार ने किया किसानों का दो माह का ब्याज माफ, होम लोन ब्याज पर भी दी सब्सिडी

modi-farmers

किसानों के आर्थिक हितों की रक्षा के लिए होगी पदयात्रा

देश भर में किसानों के आर्थिक हितों की रक्षा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई योजनाओं को संचालन किया है। इन योजनाओं को सिर्फ कागजी रूप ना देकर मोदी सरकार इन्हे आम जनता और देश के किसान भाईयों तक पहुंचानी चाहती है जिससे किसानों को वास्तविकता में सरकार की योजनाओं को लाभ मिल सकें। दिल्ली से गुजरात स्थित प्रधानमंत्री मोदी के जन्म स्थान वड़नगर तक किसान जागरूकता पद यात्रा करने जा रहे है। इस यात्रा की कमान दिल्ली प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू के हाथ में है। श्याम जाजू देश के किसानों को जागरूक करने के लिए प्रधानमंत्री से प्रेरित होकर करीब 873 किलोमीटर लंबी यात्रा कर रहे है। मोदी फैंस क्लब के सहयोग से मुद्रा एग्रीकल्चर एंड स्किल डेवलपमेट मल्टी स्टेट कोआपरेटिव सोसायटी की ओर से यह पदयात्रा आयोजित की गई है। इस यात्रा के द्वारा किसानों को केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) द्वारा दी जाने वाली रियायतें, कृषि विज्ञान केंद्र से मिलने वाली सुविधाएं, पशु धन और मछली पालन, दुग्ध उत्पादन की क्षमता बढ़ाने आदि के बारे में जानकारी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी ने की राजस्थान सरकार की योजनाओं की प्रशंसा, कहा, राजस्थान में फसल बीमा योजना पर पहुआ अच्छा काम

योजनाओं के विस्तार और किसानों के भविष्य को संवारने की एक कोशिश

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रणनीति है कि किसानों की आय वर्ष 2022 तक दो गुना किया जाए। इसके लिए भारत सरकार ने किसानों के हित में कई योजनाएं आरम्भ की है। लेकिन किसानों के हित में लागू की गई इन योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार नहीं हो पाया है। जानकारी के अभाव में किसान परेशान है। किसानों को सरकार की नई अच्छी योजनाओं की व्यापक जानकारी नहीं है। कुछ लोग किसानों को राजनीतिक मकसद के लिए भड़काया जा रहा है। इस पदयात्रा का उद्देश्य है कि सरकार का प्रयास निरर्थक नहीं रहे। इसके लिए सरकार की पहलकदमी के बारे में किसानों को जागरूक करना जरूरी है। उनमें जागृति पैदा होने से वह योजनाओं का लाभ उठाने लगेंगे। इससे उनका भविष्य संवर सकता है। जागृति से सरकारी मदद को किसानों द्वारा तीव्रता से प्राप्त किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here