प्रदेश में एंबुलेंस कर्मचारियों की फिर हड़ताल, वेतन नहीं मिलने पर सेवा ठप

0
95

जयपुर। प्रदेश में 108 एंबुलेंस कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर एक बार फिर से हड़ताल पर चले गए हैं। एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन की ओर से बकाया वेतन की मांग को लेकर मंगलवार शाम 6 बजे से प्रदेशभर में चक्का जाम हड़ताल शुरू कर दी है। कर्मचारियों को पिछले ढाई महीने का वेतन नहीं मिला है। बता दें कि तीन महीने पहले भी प्रदेशभर में एम्बुलेंस कर्मचारी हड़ताल पर चले गए थे। सरकार के साथ पहली वार्ता विफल रहने के बाद प्रदेश में एम्बुलेंस-108 और एम्बुलेंस-104 सेवाएं दूसरे दिन यानी 1 नवंबर 2019 को दोपहर तक ठप रही। लेकिन हाईकोर्ट के दखल के बाद एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन ने हड़ताल खत्म करने की घोषणा कर दी थी। हालांकि एक बार फिर सरकार, एंबुलेंस सेवा प्रदाता कंपनी और कर्मचारियों के बीच वेतन को लेकर संघर्ष की स्थिति पैदा हो गई है और इसके चलते प्रदेश भर में जीवन वाहिनी सेवा एम्बुलेंस 108 के पहिए थम गए हैं।

मजबूरन करनी पड़ी हड़ताल-यूनियन
एम्बुलेंस कर्मचारी नेता वीरेंद्र सिंह ने बताया कि कर्मचारियों को पिछले तीन महीने से वेतन नहीं मिला है। कंपनी कहती है कि सरकार से पैसा नहीं मिल रहा। जब सरकार से गुहार लगाते हैं तो अधिकारी आश्वासन दे देते है लेकिन बिना वेतन के कर्मचारियों को घर चलना मुश्किल हो गया है। मजबूरन एंबुलेंस कर्मचारी काम छोड़ कर हड़ताल कर रहे हैं। इससे प्रदेश भर की 1400 एम्बुलेंस के पहिए थम गए हैं।

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here