राजश्री और पालनहार जैसी योजनाओं से महिलाओं को मिल रहा आर्थिक सम्बल

0
1029
rajshri and palanhar yojana

राजश्री और पालनहार जैसी योजनाओं से महिलाओं को आर्थिक सम्बल मिल रहा है। साथ ही उन्हें अपनी जरूरतें पूरा करने में मदद मिल रही है। यह वाक्य कहे हैं राजस्थान की माननीय मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने। मुख्यमंत्री राजे गौरव यात्रा के बीकानेर संभाग दौरे के दौरान शहर के गोविंद नगर में आम सभा को संबोधित कर रही थीं। rajshri and palanhar yojana

उन्होंने कहा कि बच्चियों के जन्म से लेकर महिलाओं की वृद्धावस्था तक उन्हें सम्बल प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार ने अनेकों योजनाएं चलाई जिनके कारण आज प्रदेश की महिलाएं अपने पैरों पर खड़ी हो रही हैं। इसलिए लिए राज्य सरकार ने प्रदेश की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने से लेकर उन्हें अपने घर की मुखिया बनाने का महत्वपूर्ण काम किया है। rajshri and palanhar yojana

साढ़े चार साल में 380 करोड़ के सड़क विकास कार्य पूर्ण

विकास कार्यों पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार ने प्रदेश में विद्युत एवं पेयजल आपूर्ति तथा सड़क विकास के कार्यों को तेजी से आगे बढ़ाया है। कोलायत विधानसभा क्षेत्र में साढ़े चार वर्ष के दौरान 380 करोड़ रुपए लागत के सड़क विकास कार्य हुए हैं। साथ ही ग्रामीण गौरव पथों के निर्माण से गांवों में कीचड़ भरे रास्तों से निजात मिली है। क्षेत्र से गुजरने वाली 10 से 12 बड़ी सड़कों के विकास कार्य भी मार्च, 2019 तक पूरे हो जाएंगे। rajshri and palanhar yojana

Read More: कभी बंद नहीं होगी जन धन योजना, खाताधारक को मुफ्त में मिलेंगी ये नई सुविधाएं

7 हजार हैक्टेयर में मिली सिंचाई की सुविधा

दूसरी ओर, कोलायत विधानसभा क्षेत्र में डॉ. करणी सिंह लिफ्ट, पन्नालाल बारूपाल लिफ्ट तथा वीर तेजाजी लिफ्ट नहर पर पायलट प्रोजेक्ट में करीब 7 हजार हैक्टेयर में काश्तकारों को स्प्रिंकलर से सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। चारणवाला पंचायत की फूलासर वितरिका की मरम्मत का काम भी शुरू किया गया है जिससे करीब 9 हजार काश्तकारों को लाभ मिलेगा।

3 जिलों में होंगे 136 करोड़ के विकास कार्य rajshri and palanhar yojana

सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के दौरान 2014 में बीकानेर क्षेत्र में खराब पड़े फिल्टर प्लांट और डिग्गियों की समस्याएं सामने लाई गई। इसके बाद सरकार ने इन्हें दुरूस्त करने का काम किया और पहले चरण में बीकानेर, श्रीगंगानगर तथा हनुमानगढ़ जिले के लिए 158 करोड़ रुपए स्वीकृत किए। उन्होंने कहा कि दूसरे चरण में इन तीनों जिलों की बाकी योजनाओं के लिए 136 करोड़ रुपए के काम भी हाथ में लिए गए हैं जिन्हें शीघ्र पूरा कर लिया जाएगा।

यह है राजस्थान का भविष्य

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने आगे की योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि शीघ्र ही 417 हैक्टेयर भूमि पर गजनेर औद्योगिक क्षेत्र को विकसित किया जाएगा। इस औद्योगिक क्षेत्र को तीन जोन में विकसित किया जाएगा जिसके बाद यहां सिरेमिक की और अन्य छोटी-छोटी इकाइयां स्थापित हो सकेंगी। स्थानीय लोगों की मांग पर कहा कि कोलायत में राजकीय कॉलेज भी शुरू किया जाएगा। rajshri and palanhar yojana

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here