अशोक गहलोत के बजट से प्रदेश की जनता निराश, बजट का पूरा फोकस सिर्फ चुनावी जिलों पर

0
333

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को राजस्‍थान व‍िधानसभा में तीसरा बजट पेश किया। उन्होंने बजट भाषण में कृषि, स्वास्थ्य और और शिक्षा पर फोकस किया। इस दौरान उन्‍होंने कहा क‍ि किसानों में भारत की आत्मा बसती है और अगले साल से कृषि बजट अलग से पेश करने की घोषणा की है। उन्‍होंंने कहा क‍ि कोव‍िड के ल‍िए एक व‍िशेष पैकेज का ऐलान क‍िया है। अशोक गहलोत के इस बजट पर बीजेपी नेताओं ने खोखला बताते हुए अपनी अपनी अपनी प्रतिक्रियां दी है।

गहलोत ने की वसुंधरा राजे की तारीफ
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पिछली वसुंधरा राजे सरकार के सैनेटरी नैपकिन निशुल्क बांटने की योजना की जमकर तारीफ की। गहलोत ने कहा कि वसुंधरा राजे सरकार की ​तर्ज पर राज्य सरकार लड़कियों की तर्ज पर अब सभी महिलाओं को भी मुफ्त सैनेट्री नेपकिन देगी। इस पर कुल 200 करोड़ खर्च होंगे।

बजट से प्रदेश की जनता निराश
बीजेपी ने अशोक गहलोत के बजट की आलोचना करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता को इस बजट से बहुत उम्मीदें थीं लेकिन उनको निराशा ही मिली है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता कहा कि बजट में पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा और हर घर नल योजना में राजस्थान को विशेष राज्य का दर्जा मिलेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। आमजन के लिए इस बजट में बुरी खबरें ही हैं।

बजट का पूरा फोकस सिर्फ चुनावी जिलों पर
पेट्रोल-डीजल पर लगे नए सेस लगाकर पेट्रोल-डीजल की कीमत में कोई राहत नहीं दी है। पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों का असर आखिर में आमजन पर आएगा। बजट का पूरा फोकस सिर्फ चुनावी जिलों पर रहा। सीएम गहलोत ने घोषणा की दिवंगत विधायकों के नाम पर उनके क्षेत्र में गर्ल्स कॉलेज खोले जाएंगे। इसमें राजसमंद में किरण माहेश्वरी कन्या कॉलेज, भींडर में गजेंद्र सिंह कन्या कॉलेज, सुजानगढ़ में मास्टर भंवरलाल कन्या कॉलेज, गंगापुर में कैलाश त्रिवेदी कन्या कॉलेज खोले जाएंगे। वहीं एक हजार गांवों में सरकारी अंग्रेजी स्कूल खोले जाएंगे।

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here