प्रधानमंत्री और केजरीवाल की राह पर अशोक गहलोत, बिजली बिलों पर CM की फोटो

    0
    109

    जयपुर। राजस्थान में अगले साल होने वाले चुनावों को लेकर राजनीतिक पार्टियों अपनी रणनीति में जुट गई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल की तर्ज पर अपनी ब्रांडिंग करने में जुटे हैं। प्रधानमंत्री की लाभार्थी पॉलिटिक्स और दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल की मुफ्त बिजली स्कीम की तरह राजस्थान में भी बिजली बिलों पर सीएम गहलोत की फोटो छपनी शुरू हो गई है।

    सब्सिडी-बचत का प्रचार भी
    बिजली के बिल पर सबसे उपर फोटो के साथ मैसेज लिखा गया है, राजस्थान सरकार की घरेलू उपभोक्ताओं को अनुदान की पहल से आपकी बचत। इसके साथ ही इस महीने की बचत का अमाउंट (रुपए में) और अब तक इस साल की बचत(रुपए में) का कॉलम दिया गया है। बिजली बिलों पर ऐसे विज्ञापनों के जरिए तीनों कैटेगरी BPL, लघु घरेलू और सामान्य घरेलू लाभार्थियों को साधने की कोशिश की जा रही है। यह भी बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री की ओर से चलाई गई योजना से आपका कितना पैसा बच रहा है।

    पीएम मोदी की लोकप्रियता से हुए प्रभावित
    प्रधानमंत्री मोदी ने केंद्र की जनता से जुड़ी योजनाओं का प्रचार हमेशा लाभार्थी फॉर्मूले से ही किया है। इसमें उज्ज्वला योजना, आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री ग्रामीण और शहरी आवास योजना, मुफ्त राशन वितरण कार्यक्रम, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि और पेंशन, डायरेक्ट कैश ट्रांसफर स्कीम के जरिए पीएम मोदी लोगों में लोकप्रियता हासिल करने में भी कामयाब रहे हैं।

    दिल्ली—पंजाब में बिजली पानी बिल में छूट
    खास बात यह है कि इस फॉर्मूले से स्कीम के लाभार्थी ही नहीं बल्कि पूरे परिवार और वर्ग को भी साधा जा सकता है। दिल्ली और पंजाब में बिजली-पानी जैसी यूटिलिटी सेवाओं में छूट देना सफल चुनावी फाॅर्मूला साबित हुआ था। अब गहलोत भी उस फॉर्मूले को अपना रहे हैं। राजस्थान में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले 1.18 करोड़ घरेलू उपभोक्ताओं को साध रहे हैं।

    RESPONSES

    Please enter your comment!
    Please enter your name here