राजस्थान चुनाव 2018 : गुजरात के चुनावों का पड़ेगा सीधा असर

0
10175
Rajasthan Assembly Elections 2018

गुजरात विधानसभा के लिए हाल ही में हुए चुनावों में भाजपा ने शानदार जीत दर्ज की है। भाजपा की गुजरात में लगातार 6ठीं बार सरकार बनीं है। पिछले 22 वर्षों से गुजरात पर भाजपा का शासन कायम है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी खुद यहां से लगातार 4 बार मुख्यमंत्री रहे हैं। Rajasthan Assembly Elections 2018

Read more: हिमाचल में लहरा भगवा.. मोदी-शाह की जोड़ी का जादू बरकरार 

गुजरात के राजस्थान का पड़ोसी राज्य होने के नाते इन चुनावी नतीजों का यहां भी असर होगा। वर्तमान में भाजपा राजस्थान में भी सत्ता पर काबिज है। राजस्थान ही नहीं देश के कुल 28 राज्यों में से भाजपा 19 राज्यों में शासन कर रही है। राजस्थान में विधानसभा के लिए 2018 में चुनाव होने हैं। Rajasthan Assembly Elections 2018

ऐसे में गुजरात विधानसभा चुनावों का कैसे सीधा असर राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनावों में पड़ेगा, आपको नीचे बताने जा रहे हैं..

गुजरात में जीत के बाद अब राजस्थान की बारी

राजस्थान में अभी वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार सत्ता में है। 2013 में हुए विधानसभा चुनावों में वसुंधरा राजे दूसरी बार मुख्यमंत्री बनीं थी। 2013 से पहले यहां कांग्रेस की सरकार थी। राजस्थान में पिछले कुछ दशकों से यह होता आया है कि यहां एक बार भाजपा और एक बार कांग्रेस की सरकारें आती रही हैं। Rajasthan Assembly Elections 2018

लेकिन भाजपा को पड़ोसी राज्य गुजरात में मिली लगातार शानदार सफलता का असर राजस्थान में भी देखने को मिलेगा और पार्टी एक बार फिर से सत्ता में आने में कामयाब होगी। गुजरात में पार्टी की लगातार जीत का सीधा असर राजस्थान पर इसलिए भी होगा कि पड़ोसी राज्य होने के साथ साथ गुजरात और राजस्थान में बड़ी संख्या में आपसी वैवाहिक रिश्ते संबंध भी होते है। साथ ही एक बड़ी तादाद में राजस्थानी कामगार गुजरात में रहते हैं ऐसे में गुजरात की हवा राजस्थान में भी चलने में कामयाब होगी।

Rajasthan Assembly Elections 2018

सुराज के 5 वर्ष रहेंगे अहम Rajasthan Assembly Elections 2018

वसुंधरा राजे के नेतृत्व में राजस्थान में भाजपा की सरकार ने हाल ही में चार साल पूरे किए हैं। सुराज के 4 साल में राजे सरकार ने प्रदेश में जमकर विकास कार्य किए हैं। राजे सरकार योजनाओं का लाभ प्रदेश के अंतिम व्यक्ति तक बहुत आसानी से पहुंचाया जा रहा है। मुख्यमंत्री राजे ने प्रदेश के अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए कड़ी मेहनत की है। जिसका फायदा आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी को जरूर मिलने वाला है। Rajasthan Assembly Elections 2018

राजे की यह दूरदर्शी सोच का ही परिणाम है कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की शुरूआत कर लाखों की संख्या में लोगों को पीने और सिंचाई के लिए जल उपलब्ध करवाया जा रहा है। आजादी के बाद से कितनी ही सरकारें आईं और गईं लेकिन राजस्थान के जल संकट की किसी ने भी परवाह नहीं की। वसुंधरा राजे सरकार की इस योजना को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी सराहना मिल रही है। Rajasthan Assembly Elections 2018

राजे सरकार ने हर वर्ग को ध्यान में रखकर किए हैं विकास कार्य

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में वर्तमान राजस्थान सरकार सभी वर्गों को साथ लेकर चल रही है। राजे सरकार ने किसानों से लेकर विद्यार्थी वर्ग तक के लिए खास योजनाएं चलाईं है। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना, अन्नपूर्णा रसोई योजना, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, सभी वर्गों के गरीब स्टूडेंट्स के लिए छात्रवृति योजना, पालनहार योजना, भामाशाह रोजगार सृजन योजना, सोलर पम्प कृषि कनेक्शन योजना, दीनदयाल उपाध्याय पट्टा वितरण अभियान, मुख्यमंत्री नि:शुल्क कोचिंग योजना, प्रोत्साहन योजना जैसी कई महत्वपूर्ण योजनाएं चलाईं है।

इन योजनाओं का प्रदेश के सभी वर्गों को फायदा हुआ है। राजस्थान में पीने के पानी और सिंचाई के लिए कई परियोजनाएं शुरू की है। गांवों को शहरों से जोड़ने के लिए बड़ी संख्या में सड़कों का निर्माण हुआ है। ऐसे में सभी योजनाओं को ध्यान में रखते हुए प्रदेश की जनता एक बार फिर से राजस्थान की कमान वसुंधरा राजे के हाथों में देना चाहेगी। Rajasthan Assembly Elections 2018

RESPONSES

Please enter your comment!
Please enter your name here