सबसे बड़ी कार्रवाई : सटोरियों से 4 करोड़ 19 लाख रुपए जब्त, मंदिरों के नाम से 30 व्हाट्सएप ग्रुप

    0
    200

    जयपुर। आईपीएल क्रिकेट मैच पर सट्टे के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए राजस्थान पुलिस ने अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। जयपुर पुलिस ने आईपीएल मैचों पर सट्टा लगाने वाले सटोरियों से 4 करोड़ 19 लाख रुपये की नगदी जब्त की है। दो पहले हुई इस कार्रवाई में पुलिस सटोरियों से बरामद नगदी को गिनने में लगी हुई थी। नगदी गिनने के लिये मशीनें लगाई गईं। नगदी गिनने में पुलिस का पसीना आ गया। दो दिन की गहन जांच-पड़ताल में सामने आया है कि सटोरियों के तार दुबई से जुड़े हुये हैं। पुलिस आज प्रेस कॉफ्रेंस कर पूरे मामले का खुलासा करेगी।

    चार सटोरियों को गिरफ्तार और 9 मोबाइल बरामद
    पुलिस के अनुसार सटोरियों के खिलाफ यह कार्रवाई दो दिन पहले राजधानी जयपुर में की गई थी। सीएसटी टीम और कोतवाली थाना पुलिस की ओर से की गई इस कार्रवाई में सटोरियों के पास से 4 करोड़ 19 लाख रुपए नगद एक जगह से ही बरामद किये गये हैं। उसके बाद आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। लेकिन पुलिस को काफी समय इस बात की तस्दीक करने में लग गया कि आखिर ये नगदी किस की है। बाद में पुलिस ने पूरी नगदी जब्त कर ली। पुलिस ने वहां से चार सटोरियों को गिरफ्तार कर उनसे 9 मोबाइल बरामद कर जब्त किये।

    मंदिरों के नाम से 30 व्हाट्सएप ग्रुप बना रखे थे
    पुलिस की तफ्तीश में सामने आया कि ये लोग आईपीएल मैच पर ऑनलाइन सट्टा लगा रहे थे। सटोरियों ने मंदिरों के नाम से 30 व्हाट्सएप ग्रुप बना रखे थे। इन व्हाट्सएप ग्रुप के जरिये ऑनलाइन सट्टा लगाया जा रहा था। इस पूरे मामले की मॉनिटरिंग एडिशन पुलिस कमिश्नर अजय पाल लांबा कर रहे थे। डीसीपी नॉर्थ डॉ. राजीव प्रचार और एडिशनल एसपी सुलेश चौधरी ने इस मामले का सुपरविजन किया।

    सभी मोबाइल को सर्विलांस पर रखा गया
    उसके बाद सभी मोबाइल को सर्विलांस पर रखा गया। बुधवार को दिनभर जब्त किए गए मोबाइलों को सर्च किया गया तो पता चला कि इनके तार दुबई से जुड़े हुए हैं। ये सटोरिये सट्टे की खाई वाली का काम करते हैं। पुलिस ने उनके पास से इनके पास से नगदी के अलावा करोड़ों रुपए के हिसाब-किताब की लिखित पर्चियां और अन्य उपकरण भी जब्त किए हैं। आज जयपुर कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरे मामले का खुलासा करेंगे।

    RESPONSES

    Please enter your comment!
    Please enter your name here