7 साल की मासूम बनी रिश्तेदार की हैवानियत की शिकार, दर्द से तड़प तड़पकर हुई मौत

    0
    183

    जयपुर। प्रदेश में जब से कांग्रेस सरकार आई है तब से यहां अपराधियों का ही बोलबाला रहा है। प्रदेश में महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हो रहे अपराध दिन-रात बढ़ते ही जा रहे है। अब प्रदेश में ऐसी हालत हो गई कि महिलाए और लड़कियां अकेले अपने घर से बाहर नहीं निकल सकती। इन ​घटनाओं पर अशोक गहलोत सरकार आंखें मूंद कर बैठी है। प्रदेश के पश्चिमी राजस्थान में दिल को दहला देने वाली घटना सामने आई है। जोधपुर में 7 साल की एक मासूम बच्ची के साथ उसके ननिहाल पक्ष के रिश्तेदार ने ही दरिंदगी कर डाली। उसके बाद दर्द से तड़पते हुए मासूम की मौत हो गई। शर्मसार कर देने वाली इस घटना का अंत यहीं नहीं हुआ, बल्कि ननिहाल पक्ष के परिजनों ने इस पर पर्दा डालते हुए उसे सामान्य मौत बताकर मासूम का शव उसके गांव भेज दिया। वहां परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया। लेकिन एक दिन बाद जब घटना का खुलासा हुआ तो मासूम के परिजनों के होश फाख्ता हो गये। अब मामला पुलिस तक पहुंच गया है। मासूम के दफनाये गये शव को आज वापस निकाला जायेगा। उसके बाद उसका मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया जायेगा।

    नहलाया गया तब हुआ शक
    जब बच्ची का अंतिम संस्कार करने के लिए ले जाने से पहले उसे नहलाया गया तो परिवार की कुछ महिलाओं को संदेह हुआ, लेकिन वे कुछ बोल नहीं पाई। उसके बाद परिजनों ने मासूम को दफना दिया। लेकिन शक दिमाग में बैठा तो परिजनों ने उसकी तहकीकात की। सच्चाई सामने आने पर उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। परिजनों की पड़ताल में सामने आया कि ननिहाल में एक रिश्तेदार ने मासूम के साथ रेप की घिनौनी घटना को अंजाम दिया था जिससे उसकी मौत हो गई। मासूम के परिजनों ने इस बात की शिकायत पुलिस में की। उसके बाद अब आज सुबह एसडीएम की मौजूदगी में मासूम के दफनाये गये शव को जमीन से बाहर निकाला जाएगा और मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम किया जाएगा।

    RESPONSES

    Please enter your comment!
    Please enter your name here